0
(0)
364

 

 

छत्तीसगढ़ में स्पोर्ट्स इंज्युरी का पहला आयुर्वेदिक-पंचकर्म-योग ट्रीटमेंट सेंटर प्रारंभ

 

रायपुर: खिलाड़ियों को खेल के दौरान लगने वाली चोट को ठीक करने, बॉडी बनाने और वजन बढ़ाने, मांसपेशियों में खिंचाव, हड्डियों की कमजोरी में आयुर्वेदिक औषधियों के साथ पंचकर्म व योग सबसे ज्यादा कारगर सिद्ध होते हैं। आयुर्वेदिक इलाज से खिलाड़ियों में एस्टेरॉएड की मात्रा व अन्य घातक कैमिकल्स का स्तर नहीं बढ़ता, जिससे डोप टेस्ट में पास होने के साथ सेहत भी अच्छी रहती है साथ ही योग चिकित्सा द्वारा शारीरिक चोट से जल्द रिकवरी व शरीर को लचीला बनाया जा सकता है, जिससे गंभीर चोट से सुरक्षा मिलती है। यह उद्गार योग आयोग के अध्यक्ष ज्ञानेश शर्मा द्वारा वीरजी आयुर्वेदिक संस्थान द्वारा सुभाष स्टेडियम में प्रारम्भ किए गए स्पोर्ट्स इंज्यूरी के आयुर्वेदिक पंचकर्म योग ट्रीटमेंट सेंटर के उद्घाटन अवसर पर प्रकट किए गए। संचालक प्रफुल्ल जैन ने बतलाया कि इस विधि से गंभीर बीमारियों का ईलाज संभव है। चिकित्सा सेंटर में आयुर्वेद व योग के विशेषज्ञ चिकित्सकों की देखरेख में उपचार किया जाएगा।  अपने उद्बोधन में छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस खेलकूद प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने सभी खिलाड़ी व अभिभावकों से अपील की है कि हानिकारक एलोपैथी सप्लीमेंट और कैमिकल युक्त दवाओं की जगह सम्पूर्ण हर्बल एवं आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति को जीवन में अपनाएं और सुखी व स्वास्थ्य रहकर छत्तीसगढ़ के खेल और खिलाड़ियों का नाम रौशन करें इस अवसर पर योग विशेषज्ञ ज्योति साहू, अन्नपूर्णा टिकहरिहा,  अंतराष्ट्रीय बॉडीबिल्डर अमरिंदर सिंह वामा, खेल कांग्रेस के रायपुर अध्यक्ष अमित दिवान, प्रदेश महामंत्री नेहा शाल्मन सहित योग व आयुर्वेद जगत के लोग उपस्थित रहे।

 

वीरजी आयुर्वेदिक संस्थान रायपुर 9691147111, 9329484701

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

About Author

Connect with Me:

Leave a Reply