प्रदेश के 14580 शिक्षकों की लंबित भर्ती प्रक्रिया पर अंतिम मुहर लगा दी गई है,

2,307

प्रदेश के 14580 शिक्षकों की लंबित भर्ती प्रक्रिया पर अंतिम मुहर लगा दी गई है, स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा विभिन्न शर्तों के साथ नियुक्ति के आदेश जारी किए गए हैं।

इस फैसले से शिक्षक भर्ती की आस लगाए हजारों युवाओं को बड़ी राहत मिलेगी। सत्यापन के काम पूरे होंगे.मेडिकल फिटनेस, पुलिस वेरिफिकेशन के बाद होगी जॉइनिंग
मुुख्यमंत्री जी आपने 7 दिन में रिपोर्ट मांगी 8वें दिन वित्तीय सहमति मिल गई
भूपेश है तो भरोसा है
आप आलोचना झेलते हैं तो प्रशंसा के भी हक़दार हैं। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस खेलकूद प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष अधिवक्ता प्रवीण जैन ने सभी नियुक्त शिक्षकों को बधाई एवं शुभकामनाये प्रेषित कर उज्ज्वल भविष्य की मंगल कामना की है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस स्पोर्ट्स सेल

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित 4 हजार खिलाड़ियों का सम्मान कर खेल कांग्रेस ने रचा इतिहास

439

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित 4 हजार खिलाड़ियों का सम्मान कर खेल कांग्रेस ने रचा इतिहास

कोरोना संक्रमण के कारण जो खिलाड़ी छूट गए उन्हें भी दिया जायेगा “कांग्रेस खेल प्रतिभा सम्मान” कुल लक्ष्य 5100 खिलाड़ियों का सम्मान करना : प्रवीण जैन

बचे हुए जिलों में भी शीघ्र होगा आयोजन

नेशनल में मैडल लाने पर रायपुर नगर निगम द्वारा 50 हजार नगद राशि दी जायेगी

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को कांग्रेस खेल प्रतिभा सम्मान 2020 से नवाजा गया है। यह सम्मान छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस स्पोर्टस सेल द्वारा उन्हें राष्ट्रीय खेल दिवस के मौके पर स्पोर्टस सेल के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने प्रदान करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बधाई और शुभकामनाएं दी।

  • इस अवसर पर स्पोर्टस सेल के पदाधिकारी मोहम्मद इमरान भी मौजूद थे। अध्यक्ष प्रवीण जैन ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को खेल प्रतिभा सम्मान 2020 का मेडल प्रदान करने के साथ ही उन्हें स्मृति स्वरूप गाय-बछड़े की मेटल प्रतिमा भेंट की। उन्होंने बताया कि आज राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर राज्य के 24 जिलों के 4000 खिलाड़ियों को प्रशस्ति पत्र एवं मेडल भेंट कर छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस स्पोर्टस सेल द्वारा सम्मानित भी किया गया है तथा आगामी आयोजन अंतराष्ट्रीय फॉर्मेंट के क्रिकेट टूर्नामेंट CPL छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग के विषय मे भी जानकारी दी।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस स्पोर्ट्स सेल

जिन जिलों में आयोजन कोरोना की वजह से नही हो पाया वहां भी शीघ्र आयोजन कराया जायेगा तथा जिन खिलाड़ियों ने आवेदन किया और किसी कारण छूट गए उन्हें भी ऑनलाइन प्रमाण पत्र प्रदान किया जायेगा।

2 अक्टूबर गांधी जयंती तक लक्ष्य पूरा करेंगे।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस स्पोर्ट्स सेल के तत्वाधान में राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर मेजर ध्यानचंद तथा हमारे शहीदों के नाम खेल के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वालों का राजीव भवन में सम्मान समारोह आयोजित किया गया। प्रदेश भर में 4000 खिलाड़ियों का जिला स्तर पर सम्मान किया गया तथा रायपुर में 450 खिलाड़ियों को राजीव भवन में कांग्रेस खेल प्रतिभा सम्मान  से सम्मानित किया गया। छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन ने बतलाया कि समारोह में श्री राजेश चौहान मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए, उन्हें सर्वाेच्च खेल पुरस्कार महात्मा गांधी लाइफटाइम स्पोर्ट्स अचीवमेंट अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ का अभिनंदन करते हुए संघ के महासचिव श्री गुरु चरण होरा एवं उपाध्यक्ष व संसदीय सचिव छत्तीसगढ़ शासन विनोद चंद्राकर जी मेजर ध्यानचंद खेल पुरस्कार दिया गया। राज्य में खेल को बढ़ावा देने के लिए खिलाड़ियों को अपने संस्थान में रोजगार मुहैया कराने वाले संस्थान के रूप में श्री शिवम संस्थान के श्री प्रशांत मंत्री जी को शहीद विद्याचरण शुक्ल सम्मान से सम्मानित किया गया। इसी तरह अंतराष्ट्रीय मैडलिस्टों महिला वर्ग को शहीद इंदिरा गांधी खेल पुरस्कार, पुरुष वर्ग में शहीद राजीव गांधी खेल पुरस्कार, राष्ट्रीय खिलाड़ियों को शहीद नादकुमार पटेल व महेन्द्र कर्मा पुरस्कार, प्रशिक्षक, निर्णायक व पत्रकारों को शहीद विद्याचरण शुक्ल खेल अवार्ड, राज्य स्तरीय खिलाड़ियों को शहीद उदय मुदलियार खेल पुरस्कार, जिला स्तर पर शहीद योगेंद्र शर्मा खेल पुरस्कार व सैकड़ो की संख्या में खिलाड़ियों झीरम घाटी शहीद सांत्वना पुरस्कार भी दिया गया।

जिन जिलों में आयोजन कोरोना की वजह से नही हो पाया वहां भी शीघ्र आयोजन कराया जायेगा तथा जिन खिलाड़ियों ने आवेदन किया और किसी कारण छूट गए उन्हें भी ऑनलाइन प्रमाण पत्र प्रदान किया जायेगा

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस स्पोर्ट्स सेल के सम्माननीय पदाधिकारीगण:-
1, शैलेन्द्र प्रताप सिंहदेव अम्बिकापुर
2, भविष्य चंद्राकर अगरतला 9424161884
3, मनोज यादव जांजगीर-चाम्पा 7000186013
4, अब्दुल कादिर कुरैशी 982775455 राजनांदगांव
5, कुलदीप कुलांजकर राजनांदगांव 9827456063
6, आकाश राव कांकेर 9425261961
7, नमन झाबक भानुप्रतापपुर 9424297711
8, राजेश शुक्ला रायगढ़
9, गोल्डी मिथुन नायक सारंगढ़ 9300968084
10, निर्मल बरडिया महासमुन्द 9827196961
11, दिलीप सोनी मुंगेली 7089111715
12,
13, विनीत विशाल जायसवाल सरगुजा 9926602574
14, आकाश राठौर नारायणपुर 9424287457
15, विलियम भंवर बालोद 7746954666
16, निर्मल सिंह कोरबा 9131920211
17, आलोक ठाकुर दुर्ग 9827150017
18, मोहम्मद रिजवान पाटन 9977217860
19, ख्वाजा अहमद भिलाई 9406427865
20, बिप्लव मल्लिक दंतेवाड़ा 9479012999
21, राजेश जैन सूरजपुर 9977116000
22, अजित गुप्ता बलरामपुर
23, उस्मान खान बिलासपुर 9893406820
24, नीरज राजा अवस्थी बिलासपुर 9826129302
25, जगजीत सिंह बेमेतरा 8718847914
26, मोहम्मद इमरान रायपुर ग्रामीण 8878686000
27, पीयूष डागा रायपुर शहर 7415450000
28, प्रमोद लुनिया कवर्धा 7000841663
29, मनोज तिवारी बलौदाबाजार 9826197434
30, बलराम यादव जगदलपुर 9425599998
31, योगेंद्र पांडेय बस्तर 7000804944
32, हरमेश चावड़ा गरियाबंद 7000898194
33, राजेश बाफना बीजापुर 9399889731
34,
35, फैजुल्ला सिद्दकी कोरिया 7898485249
36, सुमित सिंह भिलाई 9893049416
37, राजेन्द्र सिंह भिलाई 9131856773
38, अरशद हुसैन रायपुर
39, रूपेंद्र सिंह ठाकुर बिलासपुर
40, प्रवीण उपाध्याय भिलाई
41, युगांतर श्रीवास्तव कोरिया 8817110195
42, मनमोहन सिंह मुंगेली 7999565342
43, धीरज गुप्ता रायपुर 6265330440
44, तुषार अग्रवाल रायपुर
9301822795
45, आशीष सोनी पेंड्रा
9806565999

दिव्यानी सिया जशपुर 7879586951

जावेद खान जगदलपुर शहर 9926753942

छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के जन्मदिवस पर छत्तीसगढ़ी सद्भावना मंच का गठन

369

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के जन्मदिवस पर छत्तीसगढ़ी सद्भावना मंच का गठन

रायपुर: देश के पूर्व प्रधानमंत्री, भारतरत्न और 21 वीं सदी के आधुनिक भारत के स्वप्न दृष्टा स्वर्गीय राजीव गांधी की जयंती छत्तीसगढ़ में सद्भावना दिवस के रूप में मनायी गई थी। इस अवसर पर प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत सहित मंत्रिमंडल के सभी सदस्यों ने मुख्यमंत्री निवास में आयोजित कार्यक्रम में राजीव जयंती को प्रतिवर्ष सद्भावना दिवस के रूप में मनाए जाने का निर्णय लिया और शपथ ली कि वे जाति, सम्प्रदाय, क्षेत्र, धर्म, भाषा इत्यादि का भेदभाव किए बिना देश के सभी नागरिकों में भावनात्मक एकता और सद्भावना के लिए कार्य करेंगे। हिंसा का सहारा लिये बिना हर मतभेद को बातचीत और संवैधानिक माध्यमों से सुलझाएंगे।


कैबिनेट के इस शपथ ग्रहण से प्रेरणा लेकर छत्तीसगढ़ में सद्भावना, सुख, शांति व समृद्धि स्थापित हो इसके लिए प्रदेश के सैकड़ो युवाओं को शामिल कर समाज सेवी संस्था “छत्तीसगढ़ी सद्भावना मंच” का गठन किया है, यह मंच मुख्यमंत्री की भावनाओं के अनुरूप जाति, सम्प्रदाय, नस्लवाद, क्षेत्रवाद, भाषा, धर्म, लिंग में भेद किये बिना सामाजिक समरसता, सद्भावना, एकता और अखंडता के लिए प्रदेश के नागरिकों में बिना भेदभाव के काम करने का प्रण लेती है। संस्था द्वारा प्रमुख संरक्षक माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, संरक्षक श्री चरण दास महंत व मार्गदर्शक मंडल में सभी केबिनेट मंत्रियों को शामिल किया है तथा प्रदेश संयोजक का दायित्व अधिवक्ता प्रवीण कुमार को प्रदान किया है। प्रवीण ने इस जिम्मेदारी के बाद कहा है कि इस संगठन में व्यक्ति अपनी जाति मजहब से नही बल्कि अपने कर्मों से पहचाना जायेगा। इस अवसर पर ऑनलाइन बैठक में शैलेन्द्र प्रताप सिंहदेव अम्बिकापुर, भविष्य चंद्राकर अगरतला, मनोज यादव, राजेश राठौर जांजगीर चाम्पा, अब्दुल कादिर कुरैशी, कुलदीप कुलांजकर राजनांदगांव, आकाश राव कांकेर, राजेश शुक्ला रायगढ़, गोल्डी मिथुन नायक सारंगढ़, निर्मल बरडिया महासमुन्द, दिलीप सोनी मुंगेली, मनमोहन सिंह क्षत्रिय मुंगेली, विनीत विशाल जायसवाल सरगुजा, आकाश राठौर नारायणपुर, विलियम भंवर बालोद, निर्मल सिंह कोरबा, आलोक ठाकुर दुर्ग, मोहम्मद रिजवान पाटन दुर्ग ग्रामीण, बिप्लव मल्लिक दंतेवाड़ा, राजेश जैन सूरजपुर, अजित गुप्ता बलरामपुर, उस्मान खान बिलासपुर, नीरज राजा अवस्थी बिलासपुर, शेख कासिम बिलासपुर, जगजीत सिंह बेमेतरा, मोहम्मद इमरान रायपुर ग्रामीण, पीयूष डागा रायपुर शहर, प्रमोद लुनिया कवर्धा, मनोज तिवारी बलौदाबाजार, बलराम यादव जगदलपुर, योगेंद्र पांडेय बस्तर, हरमेश चावड़ा गरियाबंद, राजेश बाफना बीजापुर, फैजुल्ला सिद्दकी, युगांतर श्रीवास्तव कोरिया, ख्वाजा अहमद भिलाई, सुमित सिंह भिलाई राजेन्द्र सिंह भिलाई, आशीष सोनी पेंड्रा, दिव्यानि सिया जशपुर, उमा भारती चंद्रवंशी कवर्धा, रौशनी चतुर्वेदानी बिलासपुर, दिव्या बघेल राजनांदगांव, पूर्णिमा नेताम कोरबा, चांदनी बंजारे जांजगीर चंचल सहारे डोंगरगढ़, ज्योति रानी, जया साहू भिलाई, सोनम बानो चिरमिरी, विजया साव रायपुर, रीना साहू रायपुर, सविता यादव बिलासपुर सहित सैकड़ों युवाओं ने संगठन में सक्रिय भागीदारी हेतु स्वीकृति दी है।

संयोजक
छत्तीसगढ़ी सद्भावना मंच

राजीव त्यागी की मौत या हत्या? चैनलों के दंगल में अब मौत…

573

राजीव त्यागी की मौत या हत्या? चैनलों के दंगल में अब मौत…

राजीव त्यागी की मौत या हत्या? चैनलों के दंगल में अब मौत बँटेगी !

जी हाँ, कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव त्यागी की मौत सहज नहीं है। 12 अगस्त की शाम पाँच बजे आज तक के कार्यक्रम ‘दंगल’ में वे बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा द्वारा बार-बार जयचंद कहे जाने से आहत हो रहे थे। ऐंकर रोहित सरदाना ने इसे रोकने की कोई कोशिश भी नहीं की। वह जानता है कि डिबेट मे कोई अपमानति होता है तो टीआरपी बढ़ जाती है। उधर राजीव त्यागी की बेचैनी बढ़ रही थी। वे बार-बार पानी पी रहे थे। बार-बार उंगली उठा रहे थे। न संबित को कोई फ़र्क़ पड़ा और न रोहित को। तनाव की इसी घड़ी में राजीव को दिल का दौरा पड़ गया

क़रीब 23 साल पहले ‘आज तक’ के संस्थापक संपादक और ऐंकर एस.पी.सिंह उपहार सिनेमा अग्निकांड की ख़बर पढ़ते हुए बेहद भावुक हो गये थे। 13 जून 1997 को दिल्ली के उपहार सिनेमा में लगी आग से 59 दर्शक जल कर मर गये थे। फ़िल्म थी बॉर्डर। तमाम विज़ुअल देखकर एस.पी.सिंह बेतरह विचलित थे। सिर्फ़ 14 दिन बाद 27 जून को महज़ 49 साल की उम्र में उनकी मौत हो गयी। कहते हैं कि उनका संवेदनशील होना ही उनका काल बन गया। सजीव चित्रों की विचित्र दुनिया में ख़बरों के साथ ख़ुद की धार बनाये रखना आसान नहीं था। एस.पी.के दिमाग़ की नस फट गयी थी।
एस.पी. तब भी परेशान दिखे थे जब लोग गणेश प्रतिमाओं को दूध पिला रहे थे। उन्होंने ‘आज तक’ के पर्दे पर मोची की निहाई को दूध पिलाकर दिखाया था। सरफेस टेंशन के सिद्धांत की व्याख्या की थी।

आज तक’ वही है, उसके मालिक भी वही हैं, पर अब मर्यादा के हर बॉर्डर को तोड़ दिया गया है। अब वहाँ ऐंकर बनने के लिए संवेदनशील नहीं संवेदनहीन बनने की माँग है। अब ये चैनल आग बुझाता नहीं, आग लगाता है। अंधविश्वास पर हमला नहीं करता, अंधविश्वास फैलाता है। संवाद नहीं ‘दंगल’ से अब उसकी पहचान है और इस काम में वह नंबर वन है। इस लिहाज़ से भी कि पहली बार उसकी डिबेट में शामिल कोई प्रवक्ता इस दंगल में अपमानित होकर ऑनएयर इस कदर बेचैन हुआ कि मर गया। बाक़ी चैनलों में अभी मार-पीट और गाली-गलौज ही देखी गयी थी। मौत का यह पहला तमाशा है।

जी हाँ, कांग्रेस के प्रवक्ता राजीव त्यागी की मौत सहज नहीं है। 12 अगस्त की शाम पाँच बजे आज तक के कार्यक्रम ‘दंगल’ में वे बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा द्वारा बार-बार जयचंद कहे जाने से आहत हो रहे थे। पात्रा तीखे अंदाज़ में राजीव त्यागी के हिंदू होने पर सवाल उठा रहे थे, कृष्ण जन्माष्टमी के दिन उनके माथे पर लगे टीके का उपहास कर रहे थे। ऐंकर रोहित सरदाना ने इसे रोकने की कोई कोशिश भी नहीं की। वह जानता है कि डिबेट मे कोई अपमानति होता है तो टीआरपी बढ़ जाती है। उधर राजीव त्यागी की बेचैनी बढ़ रही थी। वे बार-बार पानी पी रहे थे। बार-बार उंगली उठा रहे थे। न संबित को कोई फ़र्क़ पड़ा और न रोहित को। तनाव की इसी घड़ी में राजीव को दिल का दौरा पड़ गया।

सुशांत सिंह राजपूत की ख़ुदकुशी की वजह उसकी लिव-इन साथी रिया चक्रवर्ती का ‘घर छोड़कर जाना’ बताने वालों के लिए राजीव की यह ‘हत्या’ नज़र नहीं आ रही है। कोई सीबीआई जाँच की माँग भी नहीं करेगा। ‘आज तक’ पर उंगली भी शायद ही उठे। लेकिन समझने वाले इस दुश्चक्र को समझ रहे हैं। यूएनआई में दशकों काम कर चुके देश के वरिष्ठ पत्रकार चंद्र प्रकाश झा उर्फ सीपी के लिए लेकिन चुप रहना गवारा नहीं हुआ। उन्होंने अपने फ़ेसबुक पर जो लिखा, उसे पढ़ा जाना चाहिए।

यह सिर्फ़ आज तक की बात नहीं है। जैसे आग लगाकर, उत्तेजना फैलाकर वोट बटोरना कुछ राजनीतिक दलों की रणनीति है, वैसे ही न्यूज़ चैनल टीआरपी बटोरने के लिए इस फार्मूले का इस्तेमाल कर रहे हैं। चूँकि सत्ताधारी दल की* *विचारधारा को यह रास आता है, इसलिए इन पर न कोई सवाल उठता है और न कार्रवाई ही होती है। वरना भारतीय दंड संहिता की तमाम धाराएँ अभी भी मौजूद हैं। चैनलों के पर्दे पर अब हम इंसानी ज़िदगी का तमाशा बनते देख रहे हैं। किसी को अपमानित करके उसका ब्लडप्रेशर बढ़ाना और बढ़ाते जाना उसकी दिमाग़ की नसें भी फाड़ सकता है और दिल का दौरा भी ला सकता है। इसलिए इन चैनलों और और आग लगाऊ ऐंकरों को माफ़ नहीं किया जा सकता।
वे पूरे देश के साथ वही कर रहे हैं जो राजीव त्यागी के साथ हुआ है। देश का पारा चढ़ रहा है, रक्तचाप बढ़ रहा है, कभी भी फट सकता है!
चैनलों की इस गिद्धदृष्टि का नमूना ये भी है कि आज तक ने बाकायदा अपने इस वीडियो को राजीव त्यागी का अंतिम वीडियो के रूप में बेचना शुरू कर दिया है।

मौत का तमाशा देखने का आह्वान है। किसी लंपट बाजीगर की मुनादी जो अपने जमूरे का ‘गला काटने’ का तमाशा दिखाकर पैसा वसूलता है। बहरहाल, यह तो सिर्फ पोस्टर है। आज तक के इस वीडियो में देख सकते हैं कि राजीव त्यागी जयचंद कहे जाने से किस कदर बेचैन हो रहे थे और आखिर में उनकी आंखें किस तरह मुँद रही थीं।
राजीव त्यागी की जाँच करने वाले डाक्टर भी बताते हैं कि डिबेट के दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ा।
तो यह है चैनलों की हक़ीक़त। लेकिन क्या यह चैनलों की हक़ीक़त भर है। यह भारतीय लोकतंत्र के चौथे खंभे के असभ्य और हत्यारा होने की मुनादी है जो उसके दूसरे खंभे राजनीति से बल पाती है।
हो सके तो चेत जाइये। इन चैनलों का बहिष्कार कीजिए। ये भारत भूमि पर मौजूद हर शुभ विचार के विरुद्ध युद्ध की घोषणा हैं। सत्ता संरक्षित कॉर्पोरेट पूँजी उनका बल है… वरना इंसान के भेष में इनका गिद्धभोज जारी रहेगा। जो कुछ इस क़दर है कि असली गिद्ध ग़ायब हो गये हैं।

Adv. Praveen Jain

 

कांग्रेस का मिशन छत्तीसगढ़ 2018 का आगाज़

192

रायपुर: मिशन छत्तीसगढ़ 2018 का आगाज़ रविवार को स्थानीय वृन्दावन हॉल में एक प्रशिक्षण कार्यशाला का प्रारंभ कर किया गया।
कार्यशाला की शुरुवात अतिथियों द्वारा महात्मा गांधी की छायाचित्र पर दीपप्रज्वलन एवं वंदे मातरम गीत के साथ किया गया, अतिथियों के सम्मान के पश्चात् *कार्यशाला के संयोजक अधिवक्ता प्रवीण जैन* ने कार्यशाला आयोजित करने के उद्देश्यों की जानकारी देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ प्रदेश से भाजपा की रमन सरकार को उखाड़ फेंकने और 2018 में प्रदेश में कांग्रेस की सरकार स्थापित करने प्रदेश जनता की और कांग्रेस का हर एक कार्यकर्ता उत्सुक और वचनबद्ध है।
रमण सरकार के कुशासन, झूट फरेब, भय, भ्रष्टाचार, धनबल, बाहुबल, प्रलोभन, अफवाहें, जातिवाद, सरकारी मशीनरी के दुरूपयोग इत्यादि के खिलाफ कार्यकर्ताओं को मजबूती से खड़ा करने और कांग्रेस संघटन का हाथ मजबूत हो इन्ही उद्देश्य से कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा समुद्र में सेतु बाँधने के कांग्रेस संगठन के कार्यों में गिलहरी का योगदान करने की मंशा रखते है,
इस ट्रेनिंग कार्यशाला में कांग्रेस के बूथ और वार्ड स्तर के कार्यकर्ताओं को मानसिक, बौद्धिक रूप से मजबूत करने कुशल वक्ता और वाक्पटुता बनाने उन्हें प्रोत्साहित कर इनके अंदर नई ऊर्जा, जज्बा और पार्टी के प्रति समर्पित करने, बूथ मैनेजमेंट की छोटी छोटी बारीकियों से अवगत करा कर उस दशामलव सात के फैसले को पाट कर भारी मतों से जीत दर्ज करने की प्रेरणा और प्रशिक्षण का कार्य प्रारंभ करने जा रहें है जिसकी झलकियों का कुछ अंश प्रस्तुत कर रहें है, उन्होंने कहा यदि प्रदेश संघठन की अनुमति मिली तो हम *मिशन छत्तीसगढ़ 2018* को प्रदेश स्तर पर आयोजित करेंगे।
कार्यशाला के प्रशिक्षक शेखर जैन बैद ने बतलाया कि हर भारतीय कांग्रेस है और कांग्रेस का सदस्य है, जो देश की सेवा करने को तैयार है, कांग्रेस का चुनाव चिन्ह यह दर्शाता है कि जब आप देश की सेवा करने अपने आपको तैयार करते हैं तो ईश्वर का हाँथ भी आपके साथ होता है।
उन्होंने रोचक तरीके से प्रेरणादायक कहानी, गीत, वीडियों और योग के माध्यम से उपस्थित जनों को प्रोत्साहिय करते हुए बतलाया कि 2018 में कांग्रेस किस तरह छत्तीसगढ़ में अपना परचम लहराए। उनके द्वारा कांग्रेस के एक एक अक्षर को परिभाषित करते हुए कार्यकर्ताओ को प्रशिक्षित किया और बतलाया कि बदलाव की सुरुवात स्वयं से करनी होगी तब जाकर देश बदलेगा।
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे शहर कांग्रेस के जिलाध्यक्ष विकास उपाध्याय ने प्रशिक्षण को समय का आवश्यकता बतलाते हुए अपने अनुभव को साझा कर सभी युवाओं में ऊर्जा और आत्मविश्वास का संचार किया। कार्यशाला में वरिष्ठ कांग्रेसी श्री गोविन्दलाल वोरा जी , श्री शुभाष शर्मा जी राज्यसभा सांसद श्रीमती छाया वर्मा जी, महापौर श्री प्रमोद दुबे, पूर्व विधायक कुलदीप जुनेजा, श्री रमेश वल्याणी, पूर्व महापौर श्रीमती किरणमयी नायक, श्री विशाल शर्मा, श्री कुमार मेनन, श्री सतीश जैन, ने भी मार्गदर्शन कर अपने विचार रखे तथा कई सुझाव भी दिए, अतिथियों द्वारा यंगर ग्रुप को 15 अगस्त में नालियों से तिरंगे को इकठ्ठा करने और ऋषभ बिल्डर्स के अभियान पूरे प्रदेश में 350 स्थानों में तिरंगा फैरवाने के उत्कृष्ट कार्यों के लिए उनके प्रतिनिधियों को प्रतीक चिन्ह प्रदान कर सम्मान किया गया।
कार्यक्रम में प्रमिख रूप से पार्षदगण श्री समीर अख्तर श्री सतनाम पनाग, श्री सोमानलाल ठाकुर, श्री रामदास कुर्रे, डॉ. अन्नू राम साहू, श्री राजू लाल यादव, ब्लॉक अध्यक्षगण श्री सुमित दास, श्री चंद्रा बेहरा, श्री सोमेन चटर्जी, सुनील बाजारी
श्री हसन खान, डॉ. राकेश गुप्ता, श्री मनोज जैन भाटापारा, श्री मो. ईमाम राजू सलीम, मंजीत सिंह राजा मुखर्जी चिरमिरी, राहुल राय रायगढ़, संदीप शर्मा विश्रामपुर, ज्ञानेंद्र जैन, चवनराम साहू पार्षद , नीलेश कुमार,भिलाई, सुभाष गुप्ता दुर्ग, गौतम लुंकड़ कांकेर, श्रीमती पार्वती साहू, श्रीमती साधना शर्मा, श्रीमती आभा मरकाम, श्रीमती उषा रज्जन श्रीवास्तव, श्री धन्नजय सिंह ठाकुर जिला प्रवक्ता, माधव छुरा, दिप्तेश चटर्जी, रशीद खान, राकेश दुबे, श्याम सिक्का, अनुज पाठक, राहुल तांडी, श्रीमती नीना युसूफ, श्रीमती राधा राजपाल तारिक खान गिन्नी, विनोद चौहान, दीपक दुबे, सुरेश मिश्रा, प्रियेश जैन, कु. पिंकी बाघ, सिद्धार्थ चटर्जी, आदित्य शर्मा, कुलदीप साहू, नीलेश साहू, तरुण भोजपाल, तरुण पांडेय, प्रदीप प्रधान, राघवेंद्र सिंह, योगेश पंडित, सुभिर शर्मा, लोकेश सेन, राजेश पांडे, इंजिनियर अमित यादव, चम्पेश्वर दीप, पंकज ठाकुर, रूपेंद्र देवांगन, दीपक यादव, मो. सद्दाम सोलंकी, कल्याण साहू, सेवक महानंद, अशोक सिंह ठाकुर, दीपक साहू, गौरव शुक्ला, हरिश शर्मा, श्रीमती दुर्गा जैन, के साथ सैकड़ो साथी उपस्थित हुए।
उक्त कार्यक्रम को सफल बनाने में राहुल जैन, मनोज बोथरा, कुलदीप शर्मा, धवल तिवारी, दिनेश गेडाम, विनोद सांखला, सचिन पारख, प्रिंस लुंकड़, जीतेन्द्र सेठिया, कुं. ख़ुशी कोचर सहित कांग्रेस के सभी प्रदेश, जिला पदाधिकारियों, ब्लॉक अध्यक्षगण, विभाग, प्रकोष्ठों के अध्यक्षगण, रायपुर के सभी पार्षदजनों का सहियोग प्राप्त हुआ, अन्त में राहुल जैन गुढ़ियारी ब्लॉक महामंत्री ने आभार व्यक्त कर सभी उपस्थित जनों को भोजन हेतु आमंत्रित किया गया।।
*प्रवीण जैन (अधिवक्ता)*
*कार्यक्रम संयोजक*
*मिशन छत्तीसगढ़ 2018*
9406133701, 0771-4012000
www.praveenjain.in

राजनैतिक जीवन की शुरुवात में किये गए कार्यों की कुछ यादगार छलकियाँ।

199