सरकारी नौकरियों में अघोषित रोक लगाने वाले रमन सिंह अभ्यर्थियों के पक्ष में घड़ियाली आंसू बहाना बंद करें: प्रवीण जैन

5
(3)
941

सरकारी नौकरियों में अघोषित रोक लगाने वाले रमन सिंह अभ्यर्थियों के पक्ष में घड़ियाली आंसू बहाना बंद करें: प्रवीण जैन

 

रायपुर 2 जुलाई 2021: भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह पर छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी (खेलकूद प्रकोष्ठ) के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने निशाना साधते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह और भारतीय जनता पार्टी को प्रदेश की जनता से माफी मांगना चाहिये क्योंकि पंद्रह वर्षों के कुशासन के कारण प्रदेश में लगातार शिक्षकों की कमी थी, जिसके कारण 2 लाख से अधिक गरीब और मध्यमवर्गीय बच्चों ने अपनी पढ़ाई लिखाई तक छोड़ दी, शिक्षा विभाग में भारी घोटाला करने वाली पूर्ववर्ती रमन सरकार का एकमात्र धेय कमीशनखोरी करना था जिसके कारण शिक्षकों की भर्ती को लटका कर रखा गया था। छत्तीसगढ़ राज्य शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़ गया, जिसका श्रेय भी पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह और भारतीय जनता पार्टी को जाता है। भाजपा को बताना चाहिए कि किन कारणों से पंद्रह सालो में हजारो पदों में शिक्षकों की नियुक्ति नहीं की गई थी? भाजपा शासन काल मे विशेषज्ञ चिकित्सको के कुल रिक्त पद 1525 थे जिसमें मात्र 175 पदों में ही नियुक्ति की गयी थी। उसी प्रकार चिकित्सा अधिकारी के 689 पर रिक्त रहे, जिसका खामियाजा आज पूरे प्रदेश को भोगना पड़ रहा है। भाजपा सरकार का एकमात्र लक्ष्य कमीशनखोरी करना था। इस कारण बड़े पैमाने में विशेषज्ञ एवं चिकित्सा अधिकारियों की भर्ती नही की गयी थी। प्रवीण जैन ने कहा कि कांग्रेस की भूपेश बघेल सरकार ने भर्ती प्रक्रिया शुरू की है। वर्तमान परिपेक्ष्य में जब पहले से नियमित शिक्षकों से पठन पाठन का काम नही लिया जा पा रहा है ऐसे समय में नए शिक्षकों का उपयोग किस प्रकार किया जाएगा। ऐसे समय जब केंद्र सरकार अपने कर्मचारियों के वेतन में 30 फीसदी की कटौती कर रही है। जब केंद्र के रेल्वे जैसे संस्थानों में छटनी हो रही है। सारे राज्य सरकार अपने कर्मचारियों के वेतन भत्तों में कटौती कर रही है, ऐसे समय में भी छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने कर्मचारियों के साथ खड़े हैं। प्रवीण जैन ने पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ रमन सिंह से मांग की है कि अब समय आ गया है कि केंद्र में जो तीस लाख रिक्त पद हैं उनमें कम से कम तीन लाख पदों पर प्रदेश के पढ़े-लिखे बेरोजगारों को रोजगार दिलाने की पहल उन्हें करना चाहिए, पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह को तत्काल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर यह मांग भी करनी चाहिए कि जिस प्रकार कोविड-19 महामारी के कठिन समय मे प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल ने अपना वादा निभाया और 14 हजार 800 से अधिक शिक्षको की सीधी भर्ती हेतु मार्ग प्रशस्त किया उसी प्रकार केंद्र की मोदी सरकार को भी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सीख लेते हुए केंद्र में रिक्त पदों पर तत्काल नियुक्ति प्रारंभ कर देनी चाहिये।

अधि. प्रवीण जैन
प्रदेश अध्यक्ष
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी खेलकूद प्रकोष्ठ 9406133701

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 3

No votes so far! Be the first to rate this post.

About Author

Connect with Me:

Leave a Reply