Praveen Jain

छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग टी20 के लिए पहली सूची में 501 खिलाड़ियों नाम जारी

1,897

छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग टी20 के लिए पहली सूची में 501 खिलाड़ियों के नाम जारी, दूसरी लिस्ट अगले हफ्ते होगी प्रकाशित

 

छत्तीसगढ़ शासन के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री उमेश पटेल जी के निर्देशानुसार एवं PCC अध्यक्ष श्री मोहन मरकाम जी की अनुमति से प्रदेश में लगातार दूसरे वर्ष छत्तीसगढ़ स्टेट क्रिकेट काउंसिल एवं वीर स्पोर्ट्स क्लब के संयुक्त तत्वाधान में प्रदेश वासियों के लिए पेशेवर क्रिकेट प्रतियोगिता “छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग CPL-T20” का आयोजन शहीद वीर नारायण सिंह अंतराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम नवा रायपुर, सेक्टर 1 क्रिकेट स्टेडियम भिलाई एवं राजा रघुराज सिंह स्टेडियम बिलासपुर में दिसंबर माह से प्रारंभ किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी खेलकूद प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन ने जानकारी देते हुए बतलाया कि इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए 5 से 14 नवंबर 2022 तक ट्रायल्स कैंप, एकेडमिक क्रिकेट ग्राउंड, सेरीखेड़ी, रायपुर में आयोजित किया गया जिसमें अभी तक प्रदेश भर से 942 महिला एवं पुरुष वर्ग के खिलाडियों ने हिस्सा लिया, इन खिलाड़ियों के प्रदर्शन के आधार पर चयनकर्ताओं ने 445 पुरुष व 56 महिला खिलाडियों का चयन कर पहली सूची जारी कर दी है, अगली सूची शीघ्र प्रकाशित की जायेगी, खिलाड़ियों को ABCD ग्रेड में विभाजित किया गया है। पुरुष वर्ग के खिलाड़ियों को नीलामी के आधार पर प्रदेश की 8 टीमों में विभाजित किया जायेगा तथा महिला खिलाडियों की 3 से 5 टीमें बनाई जायेगी। मुख्य प्रतियोगिता के पूर्व सभी चयनित खिलाड़ियों को विभिन्न कैंप और टूर्नामेंट्स के माध्यम से प्रतियोगिता के लिए तैयार किया जायेगा। इन सभी चयनित खिलाड़ियों को T20 मैचों के साथ One Day एवं Test मैचेज खिलाने की भी तैयारी है।

सभी चयनित खिलाड़ी अपने क्षेत्रीय समाचार पत्रों और शोसल मीडिया में प्रेस रिलीज अवश्य प्रकाशित करें।

चयनित खिलाड़ियों की सूची इस प्रकार से है :-

आयोजक: 7771001701

 

मनेंद्रगढ़ में मल्टीपरपज स्पोर्ट्स इनडोर हॉल एवं सर्वसुविधायुक्त स्टेडियम निर्माण की मांग हुई तेज

123

मनेंद्रगढ़ में मल्टीपरपज स्पोर्ट्स इनडोर हॉल एवं सर्वसुविधायुक्त स्टेडियम निर्माण की मांग हुई तेज

 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का खेल प्रेम मनेंद्रगढ़ के खेल जगत को देगा नया आयाम!

खेल किसी भी राज्य और राष्ट्र को नई पहचान दिलाते हैं। खेलों के आयोजन और अधोसंरचनाओं से लेकर खिलाड़ियों की राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर की उपलब्धियों तक, राज्य का भी गौरव बढ़ता है। राज्य को खेल जैसे दमखम वाले क्षेत्र में राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय खेल क्षितिज में गौरवान्वित करने में सबसे अहम भूमिका सरकार की होती है और इस भूमिका को निभाने में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कोई सानी नहीं है। वे स्वयं छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के अध्यक्ष भी हैं। खेलों के मुखिया के तौर पर छत्तीसगढ़ के पारंपरिक लोक खेलों से लेकर विधिवत खेले जाने वाले ओलंपिक खेलों तक, उन्होंने अनेक नए अध्याय लिखे हैं। लेकिन मनेंद्रगढ़ क्षेत्र खेलों की दृष्टि से काफी पीछे है, ना ही कोई खेल एकेडमी है ना ही मैदान जिसके कारण इस क्षेत्र के होनहार खिलाड़ी संसाधनों के अभाव से खेलने से वंचित हो रहे हैं। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी खेलकूद प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने कलेक्टर मनेंद्रगढ़ एमसीबी को ज्ञापन देकर बतलाया है कि हमारे द्वारा मनेंद्रगढ़ में खेल और खिलाड़ियों के सर्वागीन विकास के लिए मल्टीपरपज स्पोर्ट्स इनडोर हॉल एवं सर्वसुविधायुक्त स्टेडियम निर्माण हेतु माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी से मुलाकात कर मांग की गई थी, जिस पर त्वारित कार्यवाही करते हुए मान. मुख्यमंत्री जी ने पत्र क्रमांक/ कार्यालय मुख्यमंत्री निवास 2500720009247/ मुमनि/2020 दिनांक 5/11/20 खेल एवं युवा कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ शासन को आवश्यक कार्यवाही हेतु निर्देशित किया था, जिसके बाद खेल एवं युवा कल्याण विभाग ने तात्कालिक कोरिया कलेक्टर को पत्र क्रमांक/अधो जनचौपाल 2020-21/1525A रायपुर दिनांक 05/03/2021 से प्रस्तावित भूमि का नक्शा, खसरा, प्राक्कलनमय ड्राइंग एवं अन्य संबंधित जानकारियां, निर्माण एवं रखरखाव की एजेंसी का नाम इत्यादि मंगवाया था,

किंतु इसके बाद उपरोक्त संदर्भ में कोरिया कलेक्टर द्वारा कोई कार्यवाही की गई इसकी जानकारी अप्राप्त है। अब मनेंद्रगढ़ नवीन जिले के रूप में गठित हुआ है और क्षेत्र वासियों को छत्तीसगढ़ सरकार से काफी अपेक्षाएं है। प्रवीण जैन ने कलेक्टर को लिखे पत्र में मांग करते कहा कि शीघ्र सभी जानकारियां शासन को भेजी जानी चाहिए, जिससे खेल अधोसंरचना के लिए राशि स्वीकृत हो और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का ’खेलबो जीतबो गढ़बो नवा छत्तीसगढ़’ का नारा साकार हो सके। प्रवीण जैन ने कहा है कि शीघ्र ही जिले में खेलों को बढ़ावा देने के लिए जनसहयोग से बड़े कार्यक्रम भी बनाकर मूलरूप दिया जायेगा।

भवदीय
अधि. प्रवीण जैन
प्रदेश अध्यक्ष
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी खेलकूद प्रकोष्ठ 9329484701

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का खेल प्रेम…छत्तीसगढ़ के खेल जगत को नया आयाम!

409

मुख्यमंत्री का खेल प्रेम…छत्तीसगढ़ के खेल जगत को नया आयाम!

साकार होता ’खेलबो जीतबो गढ़बो नवा छत्तीसगढ़’ का नारा

खेल किसी भी राज्य और राष्ट्र को नई पहचान दिलाते हैं। खेलों के आयोजन और अधोसंरचनाओं से लेकर खिलाड़ियों की राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर की उपलब्धियों तक, राज्य का भी गौरव बढ़ता है। राज्य को खेल जैसे दमखम वाले क्षेत्र में राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय खेल क्षितिज में गौरवान्वित करने में सबसे अहम भूमिका सरकार की होती है और इस भूमिका को निभाने में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का कोई सानी नहीं है। वे स्वयं छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ के अध्यक्ष भी हैं। खेलों के मुखिया के तौर पर छत्तीसगढ़ के पारंपरिक लोक खेलों से लेकर विधिवत खेले जाने वाले ओलंपिक खेलों तक, उन्होंने अनेक नए अध्याय लिखे हैं।

शुरुआत करते हैं नारे से…
नारों की महत्ता से सभी अवगत हैं। इतिहास गवाह है नारों ने यदि तख्त पलटा है तो लोगों को प्रेरित करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री बघेल नारों के महत्व से स्वाभाविक रूप से अवगत हैं। उन्होंने खेलों के प्रति युवाओं में उत्साह जगाने के और छत्तीसगढ़ में खेलों को बढ़ावा देने के लिए ’खेलबो जीतबो गढ़बो नवा छत्तीसगढ़’ नारा दिया। इस नारे के अनुरूप कार्य भी कर दिखाए जो खेलों को नया आयाम दे सकें।

छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण का गठन
राज्य निर्माण के बाद से छत्तीसगढ़ में खेलों की बुनियादी सुविधाओं के विकास के लिए छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण की मांग समय-समय पर उठती रही। छत्तीसगढ़ क्रीड़ा परिषद की भी मांग की जाती रही। तीन वर्ष पूर्व श्री बघेल के प्रयासों से छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण का गठन किया गया। इस प्राधिकरण का पंजीकरण सोसायटी रजिस्ट्रीकरण अधिनियम के तहत कराया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल इस प्राधिकरण के अध्यक्ष और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश कुमार पटेल उपाध्यक्ष हैं। राज्य सरकार के सभी मंत्रियों को इसका पदेन सदस्य बनाया गया है। वहीं प्रमुख सचिव को प्राधिकरण के संयोजक की जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्राधिकरण का मुख्य उद्देश्य खेल क्षेत्र में नितिगत निर्णय, खेल से जुड़े विभागों से समन्वय और राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर के आयोजनों के संबंध में निर्णय के साथ ही केंद्र सरकार की खेल विकास योजनाओं के अंतर्गत आर्थिक सहायता प्राप्त करना है। इसके अलावा शिक्षा व खेलों में समन्वय स्थापित करना शामिल है। प्राधिकरण कॉर्पाेरेट सामाजिक उत्तरदायित्व व अन्य क्षेत्रों से प्राप्त वित्त का खेल क्षेत्र के विकास में उपयोग करेगा।

खेलो इंडिया के आधा दर्जन से ज्यादा सेंटर खोले गए।
एक समय वह भी था जब छत्तीसगढ़ में भारतीय विकास प्राधिकरण अर्थात साई के एक सेंटर के लिए भी खेल प्रेमियों को इंतजार करना पड़ता था। मुख्यमंत्री श्री बघेल प्रयासों से ही भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा छत्तीसगढ़ में खेलो इंडिया स्कीम के तहत सात खेलो इंडिया केन्द्रों की स्थापना की मंजूरी दी गई। भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा आर्चरी और हॉकी के लिए दो-दो केन्द्रों, वॉलीबाल, मलखम्ब और फुटबाल के लिए एक-एक केन्द्र की मंजूरी दी गई। इन केन्द्रों में संबंधित खेलों के छत्तीसगढ़ के खिलाड़ियों का चयन कर राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर के कोचों के द्वारा प्रशिक्षण दिया जाएगा। इन केन्द्रों की स्थापना के लिए भारतीय खेल प्राधिकरण वित्तीय सहायता भी प्रदान करेगा। श्री बघेल ’छत्तीसगढ़ के खिलाड़ियों को अपनी खेल प्रतिभा को निखारने का अच्छा मौका मिलेगा। आने वाले समय में ये खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश और देश का नाम रौशन करेंगे। यह ‘खेलबो जीतबो गढ़बो नवा छत्तीसगढ़’ की परिकल्पना को साकार करने में एक और सार्थक कदम सिद्ध हुआ है।’ शिवतराई बिलासपुर में तीरंदाजी सेंटर, बीजापुर में तीरंदाजी सेंटर, राजनांदगांव में हॉकी सेंटर, जशपुर में हॉकी सेंटर, गरियाबंद में व्हॉलीबॉल सेंटर, नारायणपुर में मलखम्भ सेंटर और सरगुजा में फुटबॉल खेल की खेलो इण्डिया सेंटर प्रारंभ करने की स्वीकृति भारतीय खेल प्राधिकरण से मिली। प्रदेश के सभी खेल अकादमियों के संचालन, खेल अधोसंरचनाओं का विकास एवं समुचित उपयोग तथा खेलों के समग्र विकास हेतु छत्तीसगढ़ खेल विकास प्राधिकरण का गठन किया गया है। खेलों को बढ़ावा देने समेत संबंधित अन्य मुद्दों पर चर्चा के लिए प्राधिकरण के गवर्निंग बॉडी और एक्जिक्यूटिव बॉडी की बैठकें भी हो चुकी हैं। इसके साथ ही खेल प्रशिक्षकों के 08 पदों पर संविदा भर्ती की कार्यवाही पूर्ण की जा चुकी है। वर्तमान में 15 खेल संघ विभाग से मान्यता प्राप्त हैं। वित्तीय वर्ष 2021-22 में 1.43 करोड़ रुपये अनुदान राशि भी जारी किया गया है। वहीं व्यायाम शाला निर्माण के लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 में 40.17 लाख रुपये की राशि जारी की गई है।

राजीव युवा मितान क्लब का गठन :
छत्तीसगढ़ राज्य की युवा शक्ति को मुख्य धारा से जोड़कर, गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की परिकल्पना को साकार करने के उद्देश्य से राजीव युवा मितान क्लब योजना प्रारंभ की गई। इसमें प्रदेश के प्रत्येक ग्राम पंचायत एवं नगरीय निकायों के वार्डों में कुल 13269 राजीव युवा मितान क्लब गठित किए जाने का लक्ष्य है। अब तक कुल 9917 युवा मितान क्लबों का गठन हो चुका है। प्रति क्लब 25 हजार रुपये प्रति तिमाही दिए जाने का प्रावधान है। वित्तीय वर्ष 2021-22 में 33.325 करोड़ रुपये जिलों को जारी कर दिए गए हैं। राजीव युवा मितान क्लब से जुड़कर युवा खेल, सांस्कृतिक, सामाजिक गतिविधियों एवं जन-जागरूकता बढ़ाने का काम कर रहे हैं।

आवासीय खेल अकादमी का संचालन :
छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के पश्चात् पहली बार खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा आवासीय खेल अकादमी का संचालन प्रारंभ किया गया है। स्व. बी.आर. यादव राज्य खेल प्रशिक्षण केन्द्र बहतराई बिलासपुर में हॉकी, तीरंदाजी एवं एथलेटिक की आवासीय अकादमी की स्थापना की गई है, जिसे भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा खेलो इंडिया स्टेट सेन्टर ऑफ एक्सीलेंस की मान्यता दी गई है। एक्सीलेंस सेन्टर के लिए मैनपॉवर के हाई परफॉर्मेंस मैनेजर, हेड कोच हॉकी, स्ट्रैंथ एण्ड कंडिशनिंग एक्सपर्ट, फिजियोथेरेपिस्ट, यंग प्रोफेशनल एवं मसाजर (महिला) की नियुक्ति की जा चुकी है तथा शेष की नियुक्ति प्रक्रियाधीन है। गौरतलब है कि 1 जून 2022 से हॉकी की आवासीय अकादमी संचालित है, जिसमें 36 बालक एवं 24 बालिकाएं इस तरह कुल 60 खिलाड़ी प्रशिक्षणरत् हैं। तीरंदाजी तथा एथलेटिक खेल की अकादमी के लिए खिलाड़ियों के चयन ट्रायल लिए जा चुके हैं। आवासीय बालिका कबड्डी अकादमी में प्रवेश हेतु खिलाड़ियों के चयन ट्रायल लिए जा चुके हैं। इसके साथ ही रायपुर में एनएमडीसी लिमिटेड के सहयोग से आवासीय तीरंदाजी अकादमी की स्थापना की जा रही है।

गैर आवासीय खेल अकादमी की भी स्थापना :
छत्तीसगढ़ में खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा राज्य के खिलाड़ियों के प्रशिक्षण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है, ताकि राज्य का खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन कर पदक जीत सकें। राज्य के प्रत्येक जिले में विभिन्न खेलों की गैर आवासीय खेल अकादमियां स्थापित करने का लक्ष्य है। वर्तमान में तीरंदाजी प्रशिक्षण उपकेन्द्र शिवतराई (बिलासपुर), गैर आवासीय हॉकी एवं तीरंदाजी अकादमी, सरदार वल्लभ भाई पटेल अंतर्राष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम रायपुर, गैर आवासीय बालिका फुटबॉल अकादमी स्वामी विवेकानन्द स्टेडियम कोटा रायपुर, गैर आवासीय बालक एवं बालिका एथलेटिक अकादमी स्वामी विवेकानन्द स्टेडियम कोटा रायपुर का संचालन किया जा रहा है।

खेलों के लिए बनेंगे सात लघु केन्द्र :
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा खेलों को बढ़ावा देने के लिए की जा पहल के बीच छत्तीसगढ़ सरकार के प्रयासों से भारत सरकार की खेलो इंडिया योजना अंतर्गत विभिन्न खेलों के लिए सात लघु केन्द्र स्वीकृत किए गए हैं। इसमें जशपुर में हॉकी, बीजापुर में तीरंदाजी, राजनांदगांव में हॉकी, गरियाबंद में व्हॉलीबॉल, नारायणपुर में मलखम्ब, सरगुजा में फुटबॉल एवं बिलासपुर में तीरंदाजी के लिए खेल लघु केन्द्र की स्वीकृति मिली है। प्रत्येक लघु केन्द्र के लिए सात लाख रुपये के मान से कुल राशि 49 लाख रुपये संबंधित जिला कलेक्टरों को जारी किए जा चुके हैं। खेलो इंडिया लघु केन्द्र के माध्यम से स्थानीय सीनियर खिलाड़ी को प्रशिक्षक के रूप में रोजगार भी उपलब्ध कराया जाएगा।

सिंथेटिक टर्फ और ट्रैक का निर्माण :
जब से छत्तीसगढ़ में खेल को लेकर राज्य सरकार ने प्रयास तेज किए हैं, केन्द्र की ओर से भी इसमें स्वीकृति दी जा रही है। भारत सरकार की खेलो इंडिया योजना अंतर्गत जशपुर में सिंथेटिक टर्फ युक्त हॉकी मैदान के लिए 5.44 करोड़ रुपये, अम्बिकापुर में मल्टीपरपज इंडोर हॉल के लिए 4.50 करोड़ रुपये, जगदलपुर बस्तर में सिंथेटिक फुटबॉल ग्राउण्ड विथ रनिंग ट्रैक के लिए 05 करोड़ रुपये, महासमुंद में सिंथेटिक सतह युक्त एथलेटिक ट्रैक निर्माण के लिए 6.60 करोड़ की स्वीकृति प्राप्त हुई है। वहीं जगदलपुर बस्तर में निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है। उल्लेखनीय है कि खेलो इंडिया यूथ गेम्स में छत्तीसगढ़ राज्य के खिलाड़ियों ने बेहतर प्रदर्शन कर 2 स्वर्ण, 3 रजत और 6 कांस्य पदक, इस प्रकार कुल 11 पदक हासिल किये हैं।

खेल कौशल के आधार पर चिन्हांकन
प्रदेश के हर जिले में अलग-अलग खेल कौशल देखने को मिलता है। इसी के मद्देनजर अलग-अलग जिलों में खेलों की बुनियादी सुविधाओं का विकास किया जा रहा है। राजनांदगांव और जशपुर प्रारंभ से ही हॉकी की नर्सरी के रूप में विख्यात है, इन शहरों ने हॉकी के कई खिलाड़ी दिए हैं, अब नई पीढ़ी को बेहतर प्रशिक्षण देकर उन्हें एक नया अवसर प्रदान किया जाएगा। बस्तर क्षेत्र अब तक खेलों में उपेक्षित रहा था, इन क्षेत्रो में मुख्यमंत्री के निर्देश पर खेलों के विकास के लिए विशेष प्रयास किये जा रहे हैं, खेलो इण्डिया सेंटर की स्वीकृति इसका उदाहरण है। नारायणपुर में मलखम्भ की विशेष प्रतिभाओं के देखकर मुख्यमंत्री ने अकादमी कौ सौगात दी। सरगुजा में फुटबॉल के खिलाड़ियों के लिए एक नया अवसर सृजित कर खिलाड़ियों को सौंगात दी गई है। उम्मीद है कि भविष्य में राज्य के खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर राज्य का नाम रौशन करेंगे।

नये खिलाड़ियों को अवसर
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने नवोदित खिलाड़ियों में खेल के प्रति अधिक रूचि पैदा करने और खेल प्रतियोगिताओं के माध्यम से उन्हें अधिक से अधिक अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से प्रदेश में ’खेल प्रतियोगिता 2022’ आयोजित करने की विशेष पहल की। खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा यह प्रतियोगिता ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में प्रत्येक विकासखण्ड स्तर एवं जिला स्तर पर आयोजित की जाएगी। बालक एवं बालिका वर्ग के लिए सब जूनियर और जूनियर कैटेगरी में खेल प्रतियोगिता आयोजित होगी। प्रतियोगिता में विजेता दल और खिलाड़ियों को पारितोषिक-प्रोत्साहन स्वरूप खेल सामग्री प्रदान की जाएगी।
विकासखण्ड स्तर पर दलीय खेलों के अंतर्गत हॉकी, फुटबॉल, कबड्डी, खो-खो, क्रिकेट तथा एथलेटिक, बैडमिंटन एवं कुश्ती खेलों की प्रतियोगिताएं आयोजित होंगी। जिला स्तर पर दलीय खेलों के अंतर्गत हॉकी, फुटबॉल, कबड्डी, खो-खो, क्रिकेट सहित दो छत्तीसगढ़ी पारंपरिक खेल तथा एथलेटिक, बैडमिंटन और कुश्ती सहित दो छत्तीसगढ़ी पारंपरिक खेलों की प्रतियोगिताएं आयोजित की जायेंगी।

राजधानी को खेल मैदान की सौगात
राजधानी को खेल मैदान की भी सौगात दी गई। रायपुर शहर के मध्य में नगर निगम के खेल मैदान के उन्नयन की जरूरत काफी लंबे समय महसूस की जा रही थी। रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने 2 करोड़ 62 लाख रूपए की लागत से नगर निगम खेल मैदान का जीर्णाेद्वार किया। अब इस मैदान में दर्शकों के बैठने की उत्तम व्यवस्था के साथ ही रात्रिकालीन लाइट की व्यवस्था भी कर दी गई। इन सुविधाओं के विस्तार से खिलाड़ियों को खेल का बेहतर माहौल मिलेगा जिससे खेल प्रतिभाओं में निखार आएगा।

बस्तर को फीफा अप्रूव ग्राउंड की सौगात
प्रदेश के दूरस्थ इलाके बस्तर की खेल प्रतिभाओं के विकास के लिए मुख्यमंत्री श्री बघेल ने अनेक महत्वपूर्ण कदम उठाये। श्री बघेल के प्रयासों से बस्तर को फीफा अप्रूव ग्राउंड की सौगात मिली। यह छत्तीसगढ़ का पहला फीफा एप्रूव्ह सिंथेटिक फुटबाल ग्राउंड विथ रनिंग ट्रैक है। जगदलपुर के प्रियदर्शिनी इंदिरा स्टेडियम के फुटबाल मैदान को फीफा ने अंतर्राष्ट्रीय मानक का प्रमाण-पत्र जारी किया है। इस वर्ष जगदलपुर प्रियदर्शिनी इंदिरा स्टेडियम में श्री बघेल ने 56.42 करोड़ 27 विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया। श्री बघेल की मौजूदगी में बस्तर में ग्रास रूट लेबल पर सामुदायिक फुटबॉल को और अधिक लोकप्रिय बनाने ओडिशा भुवनेश्वर की आर्डाेर फुटबॉल अकादमी, बस्तर जिला फुटबॉल संघ तथा बस्तर जिला प्रशासन के बीच एमओयू किया गया। इससे बस्तर के खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक मिल सकेंगे। खेल की बारीकियां सीखने के बाद खिलाड़ी छत्तीसगढ़ के साथ देश का नाम रौशन करेंगे।

भावी पीढ़ी को खेलों की प्रेरणा
मुख्यमंत्री श्री बघेल भावी पीढ़ी को खेलों के प्रति प्रोत्साहित करने उनके साथ खेलों में उत्साह के साथ हिस्सा लेते हैं। जशपुर के कुनकरी का ही उदाहरण ले लीजिए जब वे प्रवास के दौरान आत्मानंद स्कूल के बच्चों के आग्रह पर पिठ्ठुल पर गेंद मारी, इस दौरान उन्होंने पहले ही थ्रो में अचूक निशाना लगाते हुए पिठ्ठुल के सारे पत्थर गिरा दिए, जिसे देख मुख्यमंत्री और बच्चों सहित संग उपस्थित सभी लोग खिलखिला कर हंस पड़े। श्री बघेल ने पांचवी की छात्रा वैष्णवी, प्राची और अल्फिया के साथ सांप सीढ़ी खेलते हुए पासा फेंका तो उनके साथ कैरम की गोटी को भी स्ट्राइक किया। छात्रों को शतरंज के गुर बताए।

कोदूराम वर्मा धनुर्विधा अकादमी की स्थापना
स्वः कोदूराम वर्मा छत्तीसगढ़ के धनुर्विद्या के महारथी रहे हैं। उनके योगदान को कभी विस्मृत नहीं किया जा सकता। बिलासपुर के अलावा रायपुर में सरदार वल्लभभाई पटेल अंतराष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम परिसर में स्वर्गीय कोदुराम वर्मा धनुर्विधा आवासीय अकादमी की स्थापना की गई है। दोंनो आवासीय अकादमी में खिलाड़ियों को निःशुल्क भोजन, खेल प्रशिक्षण, छात्रवृत्ति एवं बीमा के साथ-साथ शिक्षा की भी व्यवस्था की गई है। इन आकदमियों के लिए खिलाड़ियों के साथ अन्य कर्मचारियों की भर्ती की गई।

फुटबाल और टेनिस अकादमी
इसी तरह रायपुर के स्वामी विवेकानंद स्टेडियम में गैर आवासीय बालिका फुटबाल अकादमी एवं गैर अवासीय बालक-बालिका एथलेटिक अकादमी तैयार की गई है। टेनिस खेल के लिए राज्य में बेहतर सुविधा विकसित हो इसके लिए लाभांडी रायपुर में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के टेनिस स्टेडियम एवं अकादमी का निर्माण किया जा रहा है. इसके लिए 17 करोड़ 75 लाख से अधिक की राशि स्वीकृत की जा चुकी है।

खेल जगत को बुनियादी सुविधाओं का उपहार
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के अलावा बिलासपुर, राजनांदगांव और जशपुर में अंतराष्ट्रीय स्तर के हॉकी स्टेडियम बन कर तैयार है. खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत एक करोड़ रूपये की प्रोत्साहन राशि का प्रावधान किया गया है। राज्य में खेलों के विकास के लिए वित्तीय वर्ष 2020-21 में विभागीय मान्यता प्राप्त खेल संघ एवं संस्थाओं को एक करोड़ 30 लाख की आर्थिक सहायता प्रदान की गई है। इसी तरह वर्ष 2021-22 में नवंबर माह तक लगभग 60 लाख रूपए की आर्थिक सहायता दी जा चुकी है। दुर्ग जिलें में जूडो अकादमी भवन निर्माण की स्वीकृति भी दी गई है। महासमुंद में 6 करोड़ 60 लाख की लागत से सिंथेटिक एथलेटिक्स ट्रैक निर्माण, अंबिकापुर में 4 करोड़ 50 लाख की लागत से बनने वाली मल्टीपरपज इण्डोर हाल के निर्माण की स्वीकृति एवं बस्तर के इंदिरा प्रियदर्शनी स्टेडियम में 5 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाली सिंथेटिक टर्फ फुटबाल मैदान गाथ की रनिंग ट्रेक निर्माण की स्वीकृति भारत सरकार से मिल चुकी है।
श्री बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में पिछले तीन सालों में खेल अधोसंरचना और विभिन्न खेल सुविधाओं की बढ़ोतरी के लिए अनेक कार्य किए गए हैं। बिलासपुर के बहतराई में स्वर्गीय बी.आर. यादव के नाम से संचालित खेल अकादमी में एथलेटिक्स, आर्चरी एवं हॉकी के लिए आवासीय प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध कराई गई है ताकि खेलों के प्रति युवाओं का उत्साह बढ़े। राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ के पारंपरिक खेलों भौरा, गेड़ी दौड़ और फुगड़ी सहित अन्य खेलों को भी बढ़ावा दिया जा रहा है। युवा उत्सव के दौरान प्रदेश की राजधानी सहित जिलों में पारंपरिक खेलों का भी आयोजन किया जाता है।

पेशेवर मुक्केबाजी से छत्तीसगढ़ को खेलगढ़ में बदलने की तैयारी
मुख्यंत्री श्री बघेल के प्रयासों से ही छत्तीसगढ़ में अनेक राष्ट्रीय-अंतराष्ट्रीय खेलों के आयोजन सहित पेशेवर मुक्केबाजी का भी रोमांच देखने को मिला। 17 अगस्त को राजधानी के बलवीर सिंह जुनेजा स्टेडियम में ऐतिहासिक अंतर्राष्ट्रीय मुक्केबाजी मुकाबले ’द जंगल रंबल’ का आयोजन किया गया जिसमें भारत के ओलंपियन मुक्केबाज विजेंदर सिंह और घाना के एलियासु सुले ने हिस्सा लिया। विजेंदर सिंह ने यह मुकाबला जीता और छत्तीसगढ़ में खेलों की अपार संभावनाएँ बताई। श्री बघेल के अनुसार, ’’पेशेवर मुक्केबाजी छत्तीसगढ़ को खेलगढ़ में बदलने का माध्यम बनेगी। छत्तीसगढ़ को एक खेल राज्य ख़ेलगढ़ के रूप में स्थापित करने का प्रयास जारी है। मुक्केबाज़ विजेंदर सिंह की पेशेवर लड़ाई इस योजना को और मजबूत करेगी। हमें न केवल लोगों को प्रोत्साहित करना है बल्कि छत्तीसगढ़ को खेल की महाशक्ति के रूप में पहचान दिलाने के लिए भी तैयारी करनी है।’’
इस वर्ष 8 जून को प्रोफेशनल मुक्केबाज विजेंदर सिंह ने मुख्यमंत्री श्री बघेल से मुलाकात की थी और छत्तीसगढ़ में प्रोफेशनल बाक्सिंग मैच का आयोजन करने के लिए अनुरोध किया था। मुख्यमंत्री ने इस अनुरोध को स्वीकार किया था विजेंदर सिंह लगभग 19 महीनों के बाद रिंग में उतरे । इसके लिए उन्होंने मैनचेस्टर में कड़ी ट्रेनिंग ली। विजेंदर सिंह ने वर्ष 2008 के बीजिंग ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था।

छत्तीसगढ़ में शतरंज ओलंपियाड टॉर्च रिले की सफल मेजबानी की गई। शतरंज ओलंपियाड के 95 साल के इतिहास में भारत को पहली बार 44वें शतरंज ओलंपियाड की मेजबानी मिली। यह भारत में आयोजित होेने वाला अब तक का सबसे बड़ा खेल आयोजन था जिसमें 187 देशों ने हिस्सा लिया। इसका आयोजन 26 जुलाई से 8 अगस्त 2022 तक चेन्नई में किया गया। इसके पूर्व आजादी के 75 वें अमृत महोत्सव के अंतर्गत देश के 75 शहरों में 19 जून से 28 जुलाई तक शतरंज ओलंपियाड टॉर्च रिले आयोजित की गई। यह टॉर्च रिले नई दिल्ली से शुरू होकर अलग अलग राज्यों का भ्रमण करते हुए 16 जुलाई को छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर पहुंची। अर्जुन पुरस्कार प्राप्त ग्रैंडमास्टर प्रवीण थिप्से ने मशाल छत्तीसगढ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पंडित दीनदयाल उपाध्याय आडिटोरियम में सौंपी । बघेल ने मशाल महिला फिडे मास्टर किरण अग्रवाल को दी । बकौल बघेल,‘‘यह बहुत गर्व की बात है कि पहली बार ओलंपिक की तर्ज पर शतरंज ओलंपियाड की भी मशाल रिले आयोजित की गई है। यह मशाल आज राज्य में है और उदीयमान शतरंज खिलाड़ियों के लिये प्रेरणा का काम करेगी ।’’ उन्होंने 1986 और 1990 में शतरंज ओलंपियाड खेल चुकी अग्रवाल की तारीफ करते हुए कहा कि भावी पीढियों को उनसे प्रेरणा मिलेगी ।
वस्तुतः किसी भी राज्य में खेलों की बुनियादी सुविधाओं से लेकर खेल के आयोजनों और खिलड़ियों के विकास तक में राज्य के मुखिया की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है। बीते चार साल में इस भूमिका के निवर्हन में मुख्यमंत्री श्री बघेल शत-प्रतिशत खरे उतरे हैं, इसमें कोई अतिश्योक्ति नहीं है।

“कांग्रेस खेल प्रतिभा सम्मान” 2022

447

राष्ट्रीय खेल दिवस के अवसर पर खेल जगत को दिया जायेगा “कांग्रेस खेल प्रतिभा सम्मान”

समारोह 29 अगस्त से 5 सितंबर तक प्रदेश के सभी जिलों में होगा आयोजित

11 हजार खिलाड़ियों को सम्मानित करने का लक्ष्य

राष्ट्रीय खेल दिवस मेजर ध्यानचंद जी की जयंती के उपलक्ष्य पर छत्तीसगढ़ राज्य के खेल जगत को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी खेलकूद प्रकोष्ठ के तत्वाधान में लगातार पांचवे वर्ष “कांग्रेस खेल प्रतिभा सम्मान” समारोह प्रदेश के सभी 32 जिलों में आयोजित किया जा रहा है, छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन ने जानकारी देते हुए बतलाया है कि देश और प्रदेश के अमर शहीदों की स्मृति में प्रदेश के मैडलिस्ट, नवोदित खिलाड़ियों, खेल प्रशिक्षकों, अधिकारियों पत्रकारों और खेल को बढ़ावा देने वाले सभी नागरिकों का सम्मान 29 अगस्त से लेकर 5 सितंबर के तक प्रदेश के सभी जिलों के राजीव भवन में समारोह आयोजित कर सम्मानित किया जायेगा। इस सम्मान समारोह में अवार्ड को कई श्रेणियों में विभाजित किया गया है। जिनमें प्रमुख रूप से महात्मा गांधी लाइफ टाइम स्पोर्ट्स अचीवमेंट अवार्ड, खेल संघों को मेडल के आधार पर मेजर ध्यानचंद खेल पुरस्कार, अंतराष्ट्रीय मैडल प्राप्त महिला वर्ग को शहीद इंदिरा गांधी खेल पुरस्कार, पुरुष वर्ग में शहीद राजीव गांधी खेल पुरस्कार, प्रशिक्षक, निर्णायक, खेल पत्रकारों एवं खेल को बढ़ावा देने वाले नागरिकों को शहीद विद्याचरण शुक्ल खेल पुरस्कार, राष्ट्रीय मैडल विजेता खिलाड़ियों को शहीद नंदकुमार पटेल खेल पुरस्कार, राज्य स्तर पर मेडल लाने वाले खिलाड़ियों को शहीद महेंद्र कर्मा खेल पुरस्कार, जिला स्तर पर मेडलिस्ट खिलाड़ियों को शहीद उदय मुदलियार खेल पुरस्कार, अन्य खिलाड़ियों को शहीद योगेंद्र शर्मा सांत्वना खेल पुरस्कार से सम्मानित करने प्रावधान किया गया है। इस वर्ष खेल जगत के 11 हजार से ज्यादा खेल प्रेमी सम्मानित किए जायेंगे।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी (खेलकूद प्रकोष्ठ) के अध्यक्ष प्रवीण जैन द्वारा “कांग्रेस खेल प्रतिभा सम्मान” समारोह के लिए संभागीय प्रभारियों की नियुक्तियां की गई है:-

1, श्री ख्वाजा अहमद (भिलाई) सरगुजा संभाग 94064 27865
2, श्री हरमेश चावड़ा (गरियाबंद) बस्तर संभाग 7000898194
3, नीरज राजा अवस्थी बिलासपुर 98261 29302, सुश्री पूजा टिकरिहा (बेमेतरा) बिलासपुर संभाग 8319312275,

4श्री निर्मल सिंह (कोरबा) दुर्ग संभाग 9131920211

5, श्री आलोक ठाकुर (दुर्ग) रायपुर संभाग 98271 50017

आवेदन लिंक :-  https://praveenjain.in/congress-sports-talent-award/

आवेदन का प्रारूप डाउनलोड कर लेवें व अपने संभाग प्रभारियों से संपर्क करें:-

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी खेलकूद प्रकोष्ठ 7771001701

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के जन्मदिन के अवसर पर किया गया चिकित्सकों का सम्मान चार दिवसीय स्पोर्ट्स इंजुरी एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर में 752 मरीजों ने उठाया लाभ

237

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के जन्मदिन के अवसर पर किया गया चिकित्सकों का सम्मान

चार दिवसीय स्पोर्ट्स इंजुरी एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर में 752 मरीजों ने उठाया लाभ

रायपुर: चार दिवसीय निःशुल्क स्पोर्ट्स इंजुरी एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर का समापन समारोह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के जन्मदिवस के अवसर पर सुभाष स्टेडियम रायपुर में ऑर्थो स्पोर्ट्स डॉ. मनु बोरा मुंबई, MMI, नारायणा सुपरस्पेशलिटी हॉस्पिटल रायपुर एवं वीरजी आयुर्वेदिक संस्थान, रायपुर के सहयोग से किया गया। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस खेलकूद प्रकोष्ठ के तत्वाधान में आयोजित स्पोर्ट्स इंज्यूरी एवं आयुर्वेदिक शिविर का लाभ 752 मरीजों ने उठाया। शिविर आयोजक प्रवीण जैन ने जानकारी देते हुए बतलाया कि शिविर राजीव गांधी जी की जयंती पर प्रारंभ किया गया था, जिसमें देश- विदेश से पधारे स्पोर्ट्स इंजुरी और आयुर्वेदिक चिकित्सकों द्वारा निरंतर 4 दिनों तक निशुल्क चिकित्सा एवं दवाइयों का वितरण किया गया। शिविर का समापन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के जन्मदिवस पर देर सायं किया गया जहां शिविर में निस्वार्थ भाव से सेवा देने वाले सभी चिकित्सकों और स्टॉफ का सम्मान प्रतीक चिन्ह भेंट कर किया गया। इसमें प्रमुख रूप से डॉ. अखिल अग्निहोत्री, डॉ. प्रतीक विक्टर, डॉ. नवीन अग्रवाल, डॉ. गीता राजपूत, डॉ. रेखा जैन, डॉ. मनिंद्र मोहन श्रीवास्तव, डॉ. ए के कुलश्रेष्ठ, डॉक्टर दुष्यंत, अनिल मोहन सिंह सहित सभी फिजियो और नर्सिंग स्टाफ शामिल रहे। इस अवसर पर डॉक्ट राकेश मिश्रा, मुस्ताक अली प्रधान, प्रफुल जैन आलोक ठाकुर, ख्वाजा अहमद, संदीप बक्सी, सुमित सिंह, मो इमरान, मो रिजवान, अमित दीवान मारवाड़ी युवा मंच संस्कार शाखा, समर्पण सखी महिला मंडल, शेखर जैन बैद इत्यादि ने सहयोग दिया।

स्पोर्ट्स इंजुरी एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर का भव्य उद्घाटन

कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम एवं कॉमनवेल्थ सिल्वर मैडलिस्ट अंतर्राष्ट्रीय बैडमिटन खिलाड़ी आकर्षि कश्यप ने किया शुभारंभ।

पहले दिन लगभग 400 लोगों ने लिया शिविर का लाभ, रविवार को भी कैंप रहेगा जारी

रायपुर: भारत रत्न व पूर्व प्रधानमंत्री स्व. श्री राजीव गांधी जी की जयंती के उपलक्ष्य पर निःशुल्क स्पोर्ट्स इंजुरी आर्थो एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर का उद्घाटन छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के तत्वाधान में प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष मोहन मरकाम एवं अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी आकर्षि कश्यप द्वारा किया गया। इस अवसर पर कांग्रेस पदाधिकारियों ने कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को सिल्वर मैडल दिलाने पर आकर्षि कश्यप का सम्मान किया गया। शिविर के आयोजक खेल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने जानकारी देते हुए बतलाया कि शिविर में देश- विदेश के विशेषज्ञ डॉक्टर्स द्वारा स्पोर्ट्स इंजुरी आर्थों के 210 एवं आयुर्वेद के 182 मरीजों का निशुल्क परीक्षण किया गया, जिसमें काफी संख्या में चोटिल खिलाड़ियों ने शिविर का लाभ उठाया। काफी मरीजों को निशुल्क दवाइयों का वितरण भी किया गया। शिविर में रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया। चिकित्सा शिविर का समापन 21 अगस्त 2022 को सायं 4 बजे किया जायेगा।

आयोजक:-
अधि. प्रवीण जैन
प्रदेश अध्यक्ष
छत्तीसगढ प्रदेश कांग्रेस कमेटी (खेलकूद प्रकोष्ठ) 9329484701, 7771001701

स्पोर्ट्स इंजुरी एवं आयुर्वेदिक शिविर का उद्घाटन कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम एवं कॉमनवेल्थ सिल्वर मैडलिस्ट अंतर्राष्ट्रीय बैडमिटन खिलाड़ी आकर्षि कश्यप ने किया।

416

  1. राजीव जयंती पर दो दिवसीय स्पोर्ट्स इंजुरी एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर का शुभारंभ

  2. कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम एवं अंतर्राष्ट्रीय बैडमिटन खिलाड़ी आकर्षि कश्यप ने किया उद्घाटन

रायपुर: भारत रत्न व पूर्व प्रधानमंत्री स्व. श्री राजीव गांधी जी की जयंती के उपलक्ष्य पर निःशुल्क स्पोर्ट्स इंजुरी आर्थो एवं आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर का उद्घाटन छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के तत्वाधान में प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष मोहन मरकाम एवं अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी आकर्षि कश्यप द्वारा किया गया। इस अवसर पर कांग्रेस पदाधिकारियों ने कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत को सिल्वर मैडल दिलाने पर आकर्षि कश्यप का सम्मान किया गया।

शिविर के आयोजक खेल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने जानकारी देते हुए बतलाया कि शिविर में देश- विदेश के विशेषज्ञ डॉक्टर्स द्वारा स्पोर्ट्स इंजुरी आर्थों के 210 एवं आयुर्वेद के 182 मरीजों का निशुल्क परीक्षण किया गया, जिसमें काफी संख्या में चोटिल खिलाड़ियों ने शिविर का लाभ उठाया। 

काफी मरीजों को निशुल्क दवाइयों का वितरण भी किया गया। शिविर में रक्तदान शिविर का भी आयोजन किया गया। चिकित्सा शिविर का समापन 21 अगस्त 2022 को सायं 4 बजे किया जायेगा।

आयोजक:-
अधि. प्रवीण जैन
प्रदेश अध्यक्ष
छत्तीसगढ प्रदेश कांग्रेस कमेटी (खेलकूद प्रकोष्ठ) 9329484701, 7771001701

CPL T20 Chhattisgarh Premier League Tournament in this December January CSCC released schedule

2,124

CPL- T20 प्रथम वर्ष के सभी सहयोगी ऊपर दिए गए पोस्टर में एवं आयोजन की संक्षिप्त झलकियां

छत्तीसगढ़ शासन के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने किया CPL T 20 पोस्टर का विमोचन

3 स्टेडियम में किया गया उद्घाटन

 

भिलाई उद्घाटन

खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन ने किया अविनाश सीपीएल टी-20 का भव्य शुभारंभ

भिलाई 27 फरवरी: छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस और वीर स्पोर्ट्स क्लब के संयुक्त तत्वाधान में प्रदेश के क्रिकेट खिलाड़ियों का सबसे बड़ा क्रिकेट आयोजन का भव्य उद्घाटन बीती रात भिलाई के सेक्टर 1 क्रिकेट स्टेडियम में छत्तीसगढ़ खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन, भिलाई महापौर श्री नीरज पाल, राज्यमंत्री सुश्री नीता लोधी, भिलाई एवं नगर के गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति में रंगारंग आयोजन के मध्य किया गया।

रायपुर में सीपीएल टी-20 का उद्घाटन अंतराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम रायपुर में मंत्री शिव डहरिया द्वारा किया गया

खिलाड़ियों की मांग पर तत्काल डीजल रोलर प्रादन करने की घोषणा

रायपुर 1 मार्च: छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस और वीर स्पोर्ट्स क्लब के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित अविनाश छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग सीपीएल टी-20 टुर्नामेंट का उद्घाटन छत्तीसगढ़ शासन के नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री शिव कुमार डहरिया द्वारा शहीद वीर नारायण सिंह अंतराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में किया गया, श्री डहरिया द्वारा खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि यह टुर्नामेंट छत्तीसगढ़ की नैसर्गिक प्रतिभा को संवारने का काम करेगी, ग्रामीण और वनांचल क्षेत्र के यूवा प्रतिभाओं को बड़ा अवसर मिला है, खिलाड़ियों की मांग पर पिच बानाने के लिए श्री डहरिया ने डीजल रोलर तत्काल प्रदान करने की घोषणा की।

बिलासपुर 4 मार्च: सीपील टी 20 का बिलासपुर में भव्य शुभारंभ

कुछ अन्य झलकियां

 

 

समापन

जब आम्चो बस्तर के नारे से गूंजा स्टेडियम

अभुझमाड़ टाइगर्स ने फिल फाइटर्स बिलासपुर को हराकर खिताब किया अपने नाम

खेलमंत्री उमेश पटेल ने विजेता टीम को 5 व उपविजेता टीम को 2.5 लाख इनामी राशि व ट्रॉफी प्रदान की

उद्योगमंत्री कवासी लखमा सुकमा से हेलीकॉप्टर से मैच देखने पहुँचे

भिलाई 12 मार्च: छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस और वीर स्पोर्ट्स क्लब के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित अविनाश छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग टी-20 टूर्नामेंट अंतर्गत फिल फाइटर बिलासपुर और अबुझमांड टाइगर्स के बीच फाइनल मैच संपन्न हुआ। समापन अवसर पर मुख्य अथिति के रूप में छत्तीसगढ़ शासन के खेल मंत्री उमेश पटेल ने खिलाड़ियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए उन्हें बधाई दी तथा कहा कि इस तरह के प्लेटफार्म ना सिर्फ क्रिकेट बल्कि सभी खेलों के लिए तैयार किए जा रहे हैं आने वाले समय में खिलाड़ियों के लिए अनेकों योजनाओं पर कार्य किया जा रहा है, अबुझमांड टीम की हौसला अफजाई के लिए उद्योग मंत्री मैच शुरू होते ही स्टेडियम पहुंच गए वे अपना सुकमा दौरा बीच में ही छोड़ हेलीकॉप्टर से रायपुर पहुंचे और बस्तर की टीम का हौसला अफजाई करते हुए पूरे मैच का आनंद लिया। इस अवसर पर विधायक देवेंद्र यादव, राज्यमंत्री नीता लोधी, ओलंपिक संघ के महासचिव गुरुचरण सिंह होरा, कोषाध्यक्ष साहीराम जाखड़ ने भी खिलाड़ियों को बधाई दी।

CPL -T20 सीजन 2 की पूरी जानकारी इस प्रकार से है:-

छत्तीसगढ़ में खेल और खिलाड़ियों के सर्वागीण विकास के लिए प्रतिबद्ध हमारी छत्तीसगढ़ सरकार खेल को बढ़ावा देने नित्य नए प्रोग्राम एवं राष्ट्रीय अंतराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता प्रदेश में आयोजित करा रही है। इसी तारतम्य में लगातार दूसरे वर्ष छत्तीसगढ़ शासन के सहयोग से प्रदेश के क्रिकेट प्रेमियों के लिए पेशेवर क्रिकेट प्रतियोगिता “छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग CPL-T20” शहीद वीर नारायण सिंह अंतराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम नवा रायपुर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के निर्देश पर आयोजित कराने जा रहें है। आयोजक छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष प्रवीण जैन ने जानकारी देते हुए बतलाया कि प्रतियोगिता के पोस्टर का विमोचन आज मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के सुपुत्र चैतन्य बघेल एवं भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव ने किया तथा संरक्षक पद की पदेन जिम्मेदारी भी स्वीकार की। प्रतियोगिता में प्रायोजक बनने के लिए 26 सितंबर से कॉरपोरेट जगत से आवेदन मंगवाए जायेंगे तथा खिलाड़ियों के पंजीयन की अंतिम तिथि 30 सितंबर निर्धारित की गई है। 5 नवंबर से लगातार खिलाड़ियों का रियाज ग्राउंड, छेडीखेड़ी, रायपुर में कैंप लगा कर ट्रायल लिया जाएगा जहां खिलाड़ियों का ट्रायल्स लेकर चयनित खिलाड़ियों के मध्य विभिन्न स्तर की प्रतियोगिताएं आयोजित कराई जायेगी। 4 दिसंबर को उत्कृष्ट प्रदर्शन के आधार पर चयनित खिलाड़ियों को दुर्ग, भिलाई, राजनांदगांव, बस्तर, रायपुर, बिलासपुर, कोरबा और सरगुजा की 8 टीमों में नीलामी के माध्यम से विभाजित कर 10 दिसंबर 2022 से 15 जनवरी 2023 के मध्य CPL -T20 छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग क्रिकेट प्रतियोगिता आयोजित कराई जायेगी।

 

Preparations for CPL T20 Season 2 have been started.

OVERVIEW

It is no surprise that the Coronavirus Pandemic has also hit the sporting world. Who knew back in 2020 that this is where we will end up? A situation where all popular sporting events will be canceled for months? As countries one after another went into lockdown, sports athletes and fans’ hopes have started falling. Every single person involved with some sporting activity or the other has been affected, ranging from playing in the neighbourhood park to athletes competing in national and international competitions. Whether it is not heading out to the park to play, in fear of contracting the virus from other kids, or
international sporting events being canceled, everyone has been affected. We started with a dream to look-out to explore and enhance Sporting Talents from every corner of the State. Due to the pandemic, it took us two years to finally bring CPL T20 to the live arena.
First season of CPL T20 was successfully held and we were astonished to receive such a great positive response , hence it gave us the confidence to start more aggressively for the second season.
Chhattisgarh State Cricket Council was formed with a motto to search and develop young cricketing talents of the state and also provide them a platform to perform. There is enormous presence of many Talented Players even in Tribal Areas of C.G. These Tribal Players are Physically and Mentally very fit. If given proper Opportunity and Training, they will surely emerge as Good Players. The motto of council is to extract such Talent and provide equal Opportunity to all Players across the State.
Veer Sports Club based at Chhattisgarh is a renowned registered Sports Club of Central India. Since our inception four years ago, we have been successfully hosting many Sporting Events in Chhattisgarh

PARTICIPATING TEAMS
(MIN. 8 – MAX. 10)
RAIPUR NAYA, RAIPUR, BILASPUR, BHILAI, DURG, RAJNANDGAON, SARGUJA, ABUJHMAD, KORBA, BASTAR, Raigarh etc

FORMAT OF THE LEAGUE

SCHEDULE
League will be organized in Dec. 2022 to Jan 2023

VENUES
Shaheed Veer Narayan Singh International Cricket Stadium Raipur,
BSP Cricket Ground Sector 1 Bhilai ect

 20 Over league played with season ball
 League matches, Play Offs & Grand Finale
 League is conducted as per IPL format
 Live streaming of the league

All the players will have to give a trial, only after the selection, they will go to the auction and they will be given a contract of 3 years. Tournament Any player from Chhattisgarh can play, if he plays in any other cricket association then he has to bring himself NOC to play in our tournament. It will be mandatory for all the players to give an affidavit for the acceptance of the prescribed rules for playing the tournament, in the case of a minor, the guardian will have to give an affidavit. Online applications will be invited from 1st to 30th September 2022 from players willing to play CPL T20. By 20 November 2022, all the players will be selected for the final list of CPL T20 according to their performance through trials and various tournaments. The players will be auctioned on December 4 2022 and the team will be handed over to the owner.

ADVERTISEMENT & PUBLICITY

It’s time to stop thinking of sponsors as simply brands that choose to bankroll random events and start thinking of the sponsor-host interaction as a strategic partnership. For us this is a partnership in which the companies hosting events as well as the companies who happen to be injecting some cash flow into events both gain enjoyment, value, and a
lasting relationship. In lead up to the league we have planned a rigorous promotion and marketing campaign that will showcase all the brands associating with us.

 

OPPORTUNITY CPL – T20

In India Cricket is treated as a religion having huge followers. CPL T20 is an initiative to collect the scattered Cricketing Talents from Chhattisgarh and bring them into professional domain. The concept of CPL T20 is to provide platform to all the emerging players who dream to get recognition nationwide. The League is a unique approach towards Cricket Game which will definitely entertain the audience. Also the league will present Chhattisgarh State as a new venue of Sports across the Nation. We can assure to all the Brands associating in this Mega Event that we will display your brand in the best possible manner. Thanks & Regards

CHHATTISGARH PREMIER LEAGUE SEASON 2

For details of Sponsorship Contact on given numbers

Contect No. : 7771001701, 9329484701
Email : cgcricketcouncil@gmail.com
Facebook@CPLT20Raipur

 

 

 

सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के साथ झूम तराना महोत्सव का रंगारंग समापन

1,663

सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के साथ झूम तराना महोत्सव का रंगारंग समापन

विभिन्न विधाओं में विजेताओं को 6 लाख के नगद पुरस्कार वितरित किए गए

रायपुर 8 अगस्त: राजधानी में बीते एक सप्ताह से लगातार जारी राष्ट्रीय स्तर की झूम तराना महोत्सव में विभिन्न सांस्कृतिक आयोजनों का रविवार देर रात रंगारंग समापन हुआ। कृष्णा पब्लिक स्कूल सरोना एवं छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित झूम तराना महोत्सव के आयोजकगण राकेश मिश्रा एवं प्रवीण जैन ने जानकारी देते हुए बतलाया कि इस प्रतियोगिता में देश के ग्यारह प्रांतों से प्रतिभागी शामिल हुए जिनके मध्य विभिन्न विधाओं में सांस्कृतिक नृत्य, गायन, वाद्ययंत्र एवं पेंटिंग प्रतियोगिताओं के विजेताओं को 6 लाख रूपये की नगद पुरस्कार वितरित किए गए। प्रतियोगिता के विजेता इस प्रकार से हैं।

सब जूनियर सेमी क्लास्सिकल में अनन्या जैन प्रथम, आराध्य अग्रवाल द्वितीय एवं मान्या मेहर तृतीया रही, जूनियर सेमी क्लास्सिकल में आशिमा भोयर प्रथम, आशी भरद्वाज द्वितीय एवं नाइशा नागदेव तृतीय रही, सीनियर सेमी क्लास्सिकल में ऋतुषा बाबर प्रथम, अवनि चावला द्वितीय एवं अर्पिता प्रधान तृतीया रहीं, ओपन सेमी क्लास्सिकल में लेखिका राठोड प्रथम पुरष्कार, सुरभि सिंह द्वितीय एवं कृति सिंह तृतीया रहीं।

सब जूनियर वेस्टर्न डांस में भव्य चंद्राकर प्रथम, शशांक बंसोड़ द्वितीय एवं शान्या यादव तृतीया रहीं। जूनियर वेस्टर्न डांस में अल्फिया खान प्रथम, सतविंदर बाजवा द्वितीय एवं वंशिका पाडवेकर तृतीया रहें। सीनियर वेस्टर्न डांस में करिश्मा साहू प्रथम एवं शिल्पा दुबे द्वितीय रहे।

ग्रुप डांस में कृष्णा पब्लिक स्कूल कुटेलाभाटा प्रथम, प्रेमुल्ला डांस ग्रुप एवं विचक्षण जैन विद्या पीठ द्वितीय, संगीता डांस ग्रुप एवं कृष्णा पब्लिक स्कूल कुटेला नेहरू नगर भिलाई तृतीया विजेता रहे। बेस्ट अवार्ड सोलो डांस में पलक उपाध्याय नित्यमानी अवार्ड, ग्रुप डांस में कृष्णा पब्लिक स्कूल कुटेलाभाटा नित्यमानी अवार्ड एवं छाया कुशवाहा स्वरमणी अवार्ड की विजेता रहीं। जूनियर कुच्चीपुड़ी डांस में सात्त्विका प्रथम पुरष्कार, परवशतु पूर्वज द्वितीय एवं यशस्वी तृतीया विजेता रहीं। सीनियर कुच्चीपुड़ी डांस में शर्मिस्था घोस प्रथम, अनन्या चंद्राकर द्वितीय एवं जहानवी सोनी तृतीया विजेता घोषित हुई। ओपन ओडिसी डांस में पूनम गुप्ता प्रथम, विद्या नायर द्वितीय एवं आभा कुमारी तृतीया रहीं। सब जूनियर कत्थक डांस में राधिका शर्मा प्रथम, कायरा सिंह द्वितीय एवं अनुषा राय चौधरी तृतीय रहीं।

जूनियर कत्थक डांस में गीतिका चक्रधारी प्रथम, अनुभूति द्वितीय एवं शाश्वती तृतीय विजेता रहीं। सीनियर कत्थक डांस में डॉली थारवानी प्रथम, हीतल साहू द्वितीय एवं अपेक्षा चंद्राकर तृतीया रहीं। ओपन कत्थक डांस में माया डहरिया प्रथम, लक्ष्मण साहू द्वितीय एवं दीपाली साहू तृतीया घोषित हुए। सब जूनियर भरतनाट्यम डांस में भव्य चंद्राकर प्रथम, अहुना लोध द्वितीय एवं अंशिका मिश्रा तृतीया रहे। जूनियर भरतनाट्यम डांस में अक्षिता जैन प्रथम, अल्तिया खान द्वितीय एवं ईशा अग्रवाल तृतीया रहीं। सीनियर भरतनाट्यम डांस में पलक उपाध्याय प्रथम, अंशिका टांक द्वितीय एवं सुमन महत्तो तृतीया रहीं।

सीनियर पेंटिंग एवं आर्ट्स प्रतियोगिता में कंचन आदिल प्रथम, कृतिका रामचंद्रन द्वितीय एवं श्रुति जंघेल तृतीय रहीं।

जूनियर पेंटिंग एवं आर्ट्स प्रतियोगिता में समृद्धि गुप्ता प्रथम, ख़ुशी अग्रवाल द्वितीय एवं शुभांगी राठोड तृतीया घोषित की गई।

ड्राइंग प्रतियोगिता में कंचन आदिल सीनियर वर्ग जे वी कॉलेज प्रथम, कृतिका रामचंद्रन एमिटी यूनिवर्सिटी द्वितीय एवं श्रुति जंघेल केपीस खुटेलाभाटा तृतीय रही वही जूनियर वर्ग में समृद्धि गुप्ता रेडिएंट वे स्कूल प्रथम, खुशी अग्रवाल वीर छत्रपति स्कूल द्वितीय तथा शुभांगी राठौर व आयुषी साहू केपीएस सरोना संयुक्त रूप से तृतीय रहीं, दोनो वर्गों में 10 प्रतिभागियों को सांत्वना पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

झूम तराना महोत्सव का उद्घाटन संस्कृति मंत्री मान. श्री अमरजीत भगत ने किया था।

कार्यक्रम मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष मोहन मरकाम ने सभी विजेताओं को पुरस्कृत किया साथ ही निजी तौर पर भी नगद राशियां प्रदान की गई।

कार्यक्रम में मुख्य भूमिका केपीएस सरोना की प्राचार्य श्रीमती अर्चना मिश्रा एवं एजुकेशन डायरेक्टर श्रीमती अर्पण त्रिपाठी जी के साथ सभी गुरुजन एवं स्टाफ ने निभाई।

आयोजक

राकेश मिश्रा एवं प्रवीण जैन 9329484701

झूम तराना महोत्सव में ड्राइंग एवं सांस्कृतिक नृत्य प्रतियोगिता संपन्न

276

 

झूम तराना महोत्सव में ड्राइंग एवं सांस्कृतिक नृत्य प्रतियोगिता संपन्न

कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने विजेताओं को किया पुरस्कृत

रायपुर: राष्ट्रीय स्तर पर झूम तराना महोत्सव के अंतर्गत विभिन्न सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं का आयोजन कृष्णा पब्लिक स्कूल सरोना एवं छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के तत्वाधान में रायपुर के दीन दयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में चल रही है, जिसमें आज तीसरे दिन ड्राइंग प्रतियोगिता और सांस्कृतिक नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम संयोजक राकेश मिश्रा एवं कार्यक्रम प्रभारी प्रवीण जैन ने जानकारी देते हुए बतलाया कि ड्राइंग प्रतियोगिता में भ्रूण हत्या विषय पर प्रतिभागियों ने अपनी कला का प्रदर्शन किया

जिसमें कंचन आदिल सीनियर वर्ग जे वी कॉलेज प्रथम, कृतिका रामचंद्रन एमिटी यूनिवर्सिटी द्वितीय एवं श्रुति जंघेल केपीस खुटेलाभाटा तृतीय रही वही जूनियर वर्ग में समृद्धि गुप्ता रेडिएंट वे स्कूल प्रथम, खुशी अग्रवाल वीर छत्रपति स्कूल द्वितीय तथा शुभांगी राठौर व आयुषी साहू केपीएस सरोना संयुक्त रूप से तृतीय रहीं, दोनो वर्गों में 10 प्रतिभागियों को सांत्वना पुरस्कार से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष मोहन मरकाम ने सभी विजेताओं को पुरस्कृत किया साथ ही निजी तौर पर भी नगद राशियां प्रदान की गई।

इसी प्रकार नृत्य प्रतियोगिता जिसके अंतर्गत कत्थक, भारत नाट्यम, उड़िसी, फॉक, सेमी क्लासिकल, इंडियन क्लासिकल कूची पुड़ी एवं वेस्टर्न नृत्य प्रतियोगिता लगातार चल रही है जिसके वजेताओं की घोषणा व पुरस्कार वितरण 6 अगस्त को किया जायेगा।

इस अवसर पर पद्मश्री मदन चौहान, प्राचार्य श्रीमती अर्चना मिश्रा, साहित्यकार कुणाल शुक्ला, विकास तिवारी, सुमित्रा घृतलहरे उपस्थित हुए।

प्रवीण जैन, कार्यक्रम प्रभारी 9329484701