मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 19 नवम्बर को टेनिस स्पोर्ट्स अकादमी निर्माण का करेंगे भूमिपूजन

211

प्रदेश के खिलाड़ियों और खेल प्रेमियों को मिलेगी एक बड़ी सौगात

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 19 नवम्बर को टेनिस स्पोर्ट अकादमी निर्माण का करेंगे भूमिपूजन

रायपुर- मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल 19 नवम्बर को अपने निवास कार्यालय से वीडियों कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से राजधानी रायपुर में टेनिस स्पोर्ट अकादमी निर्माण कार्य का भूमिपूजन करेंगे। कृषि विश्वविद्यालय रायपुर के सांस्कृतिक भवन से लगी 4 एकड़ भूमि में टेनिस स्पोर्ट अकादमी का निर्माण किया जाएगा। इसके निर्माण के लिए राज्य शासन के खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा 17 करोड़ 75 लाख रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान करते हुए कार्यादेश जारी कर दिया गया है। अकादमी के निर्माण के लिए 15 माह का समय निर्धारित किया गया है।

टेनिस स्पोर्ट अकादमी के अंतर्गत एडमिन बिल्डिंग , हॉस्टल बिल्डिंग और टेनिस कोर्ट का निर्माण किया जाएगा। एडमिन बिल्डिंग के भू-तल में वेटिंग रूम, रिसेेप्शन, दो चेंजिंग रूम, दो हॉल, पार्किंग एरिया एवं प्रथम तल में जिम, डायनिंग एरिया, वेटिंग एरिया तथा द्वितीय तल में व्ही.आई.पी. लॉज और 3500 क्षमता के पावेलियन का निर्माण किया जाएगा। हॉस्टल बिल्डिंग के भू-तल में रिसेप्शन एवं वेटिंग रूम, अधीक्षक रूम, कार्यालय, व्ही.आई.पी. रूम और पार्किंग, प्रथम तल में कैरम रूम, टेबल टेनिस रूम, किचन, डायनिंग। द्वितीय तल में 17 रूम, हाऊस किपिंग एवं तृतीय तल में 17 रूम हाऊस किपिंग का निर्माण किया जाएगा साथ ही एक इंटरनेशनल टैनिश कोर्ट (सिंथेटिक कोर्ट) और 5 प्रेकटिस कोर्ट (सिंथेटिक कोर्ट) का निर्माण किया जाएगा।

खेलने के लिए जब खिलाड़ियों को करना पड़ा जल सत्याग्रह, कड़े संघर्षों के बाद पुराई गांव के 12 तैराकों का चयन भारतीय खेल प्राधिकरण में

80

खेलने के लिए जब खिलाड़ियों को करना पड़ा जल सत्याग्रह, कड़े संघर्षों के बाद पुराई गांव के 12 तैराकों का चयन भारतीय खेल प्राधिकरण मे

दुर्ग ग्रामीण का पुराई जो राष्ट्रीय स्तर के स्विमर की नर्सरी है, जहां से 12 बच्चों का सलेक्शन SAI के लिए हुए है अब इनको गुजरात के गांधीनगर में आगे के लिए तैयार किया जा रहा है, जब केंद्रीय खेल मंत्री Kiren Rijiju जी इस सेंटर में गए थे तब उन्होंने हमारे छत्तीसगढ़ के इन तैराकों से विशेष मुलाकात की और इन लोगों के साथ लंच किया, ये बच्चे यदि आज इस मुकाम पर पहुंचे है तो इसके पीछे एक बड़ा संघर्ष है, छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन ने आज दीपावली से एक दिन पूर्व इस गांव में विभिन्न खेल प्रतियोगिता के समापन पर जब खिलाड़ियों से रूबरू हुए तो खिलाड़ियों ने आप बीती बतलाई, उन्होंने बतलाया कि 2017 में गांव के सरपंच ने इन बच्चों को गांव के तालाब में स्विमिंग करने पर प्रतिबंध कर दिया था जिसके बाद एक लंबी लड़ाई इन लोगों ने लड़ी इन लोगों को कई दिनों तक जलसत्याग्रह करना पड़ा ग्रामीणों ने भी इनका साथ दिया, महिला तैराकों को भी काफी परेशान किया गया, तात्कालिक सरकार ने भी इन बच्चों की कोई सुध नही ली और उपेक्षित रखा गया, सरकार बदलने के बाद ये सभी बच्चे अब गांव के तालाब में अभ्यास करते हैं प्रतिदिन लगभग 10 km की तैराकी वे कर रहे हैं, इस गांव में कई खिलाड़ी आज नेशनल लेवल पर प्रदर्शन कर चुके है इन्ही में से 12 खिलाड़ियों का चयन भारतीय खेल प्राधिकरण गुजरात के लिए हुए है,

खिलाड़ियों ने बतलाया कि इन्ही के बीच मे एक खिलाड़ी जिसने ओलंपिक रिकार्ड के लगभग बराबरी से तैराकी में रिकार्ड बनाया था आज वह पेट की भूख मिटाने खेलकूद छोड़कर कहीं मजदूरी कर रहा है, बिना बुनियादी सुविधाओं के ये सभी बच्चे नेशनल लेबल पर जौहर दिखा रहे हैं, यदि इनको मूलभूत साधन संसाधन उपलब्ध कराया जाए तो ना ये अपने देश में बल्कि पूरे विश्व में छत्तीसगढ़ का नाम रौशन करेंगे। पुराई ग्राम गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू जी का विधानसभा क्षेत्र है, उनके इस क्षेत्र से चुने जाने के बाद खिलाड़ियों की सुध ली जाने लगी है मंत्री जी द्वारा इस क्षेत्र में खेल मैदान की सुविधा शीघ्र देने जा रहे हैं। हमारे गांवों में प्रतिभाओं की कोई कमीं नही है कमी है इक्षाशक्ति की, कमी है सुविधाओं को साधन व संसाधनों की, इन सभी कमियों को दूर कर अपने प्रदेश के खिलाड़ियों को शीर्ष पर लाना है, यही संकल्प है।
फ़ोटो में सभी 12 तैराक
Adv Praveen Jain. Chhattisgarh Pradesh Congress Sports Cell

मुख्यमंत्री से मनेन्द्रगढ़ में मल्टीपर्पज स्पोर्ट्स इनडोर हॉल व सर्वसुविधायुक्त स्टेडियम की मांग

124

मुख्यमंत्री से मनेन्द्रगढ़ में मल्टीपर्पज स्पोर्ट्स इनडोर हॉल व सर्वसुविधायुक्त स्टेडियम की मांग

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के एक दिवसीय मनेन्द्रगढ़ आगमन पर छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन ने विधानसभा अध्यक्ष श्री चरणदास महंत एवं क्षेत्रीय विधायक श्री विनय जायसवाल की मौजूदगी में मुख्यमंत्री से मुलाकात कर क्षेत्र में खेलकूद के सर्वागीण विकास पर चर्चा कर ज्ञापन सौंपा, श्री जैन ने ज्ञापन के माध्यम से बतलाया है कि मनेन्द्रगढ़ आदिवासी बाहुल्य एवं पिछड़ा क्षेत्र है, इस क्षेत्र में काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी है किन्तु खेल मैदान व सुविधाओं के भारी अभाव में इस क्षेत्र में खेल और खिलाड़ियों का समुचित विकास नही हो पाया है, पिछली सरकार के 15 वर्षों के कार्यकाल में मनेन्द्रगढ़ शहर की घोर उपेक्षा की गई, इस क्षेत्र में कोई भी विकास कार्य नही होने दिए गए जिससे क्षेत्र की जनता के साथ काफी अन्याय हुआ है, इस वजह से यह क्षेत्र अन्य शहरों की तुलना में काफी पिछड़ गया है, आपके मुख्यमंत्री बनने से हमारे क्षेत्र की जनता को नई उम्मीदें जगी है। प्रवीण जैन ने मनेंद्रगढ़ में खेलों के विकास के लिए मल्टीपर्पज इनडोर हॉल तथा सर्वसुविधायुक्त स्टेडियम की मांग रखी है, इस पर माननीय मुख्यमंत्री जी ने सकारात्मक जबाब देते हुए मुख्यमंत्री कार्यालय में आकर प्रस्ताव देने कहा है। इस अवसर पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता रमेश सिंह मनेन्द्रगढ़ नगर पालिका की अध्यक्ष श्रीमती प्रभा पटेल, उपाध्यक्ष कृष्ण मुरारी तिवारी, ब्लॉक अध्यक्ष राजेश शर्मा सहित अनेकों संगठन के पदाधिकारी मौजूद रहे।

 

मरवाही उपचुनाव में सैकड़ों खिलाड़ी और ग्रामीण उतरे कांग्रेस प्रत्यासी के.के. ध्रुव के प्रचार में

88

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा नियुक्त मरवाही उपचुनाव में नरौर सेक्टर प्रभारी छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस स्पोर्ट्स सेल के प्रदेश अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन द्वारा अपने सेक्टर के 5 ग्राम पंचायतों का दौरा कर सभी पंचायतों के सरपंच, पंच व बूथ कमेटी के सभी पदाधिकारियों की बैठक लेकर सभी के मध्य समन्वय बनवाकर सभी को डोर टू डोर मतदाता पर्ची और प्रचार सामग्री वितरण कार्य पर लगाया। इसके अतिरिक्त कई ग्रामों का दौरा कर अनेकों खिलाड़ियों की बैठक लेकर उन्हें भी पार्टी प्रत्याशी श्री के.के.ध्रुव के पक्ष में प्रचार में लगाया गया।

भाड़ी में मरवाही क्षेत्र के ग्रामीण खिलाड़ियों की बैठक ली जहां जिम्नास्ट के कई राष्ट्रीय खिलाड़ी मौजूद रहे,

उनके बीच की खिलाड़ी पूजा नायक को प्रदेश सचिव की जिम्मेदारी दी और सभी को चुनाव प्रचार में लगाया

टांगिमार ग्राम में भी सैकड़ो की संख्या में खिलाड़ी एकत्रित हुए जहां उनकी बैठक ली और उन्हें पार्टी की रीति नीति से जोड़ा व प्रचार में लगाया।

ग्राम नरौर सेक्टर के सभी पांच ग्राम पंचायतों में बूथ प्रभारियों व ग्रामीणों की बैठक ली

 

 

अम्बिकापुर में मल्टीपरपज़ इंडोर हॉल तथा महासमुन्द में सिंथेटिक एथलेटिक ट्रेक निर्माण को मंजूरी मिली

358

अम्बिकापुर में मल्टीपरपज़ इंडोर हॉल तथा महासमुन्द में सिंथेटिक एथलेटिक ट्रेक निर्माण को मंजूरी मिल

खेलबो-जीतबो-गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की परिकल्पना को लगे पर

रायपुर। छत्तीसगढ़ में खेल अधोसंरचनाओं को विकसित करने के राज्य सरकार के प्रयासों को एक और बड़ी सफलता मिली है। छत्तीसगढ़ राज्य में खेल अधोसंरचनाओं के विकास में एक और नया अध्याय जुड़ गया है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की विशेष पहल पर भारत सरकार के युवा कल्याण और खेल मंत्रालय द्वारा खेलो इंडिया योजना के तहत अम्बिकापुर में मल्टीपरपज इंडोर हॉल के निर्माण तथा महासमुन्द में सिंथेटिक एथलेटिक ट्रेक निर्माण के राज्य सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। ये दोनों प्रस्ताव छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा भारत सरकार को भेजे गए थे।
छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन ने बतलाया कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के विशेष प्रयासों से भारत सरकार ने अम्बिकापुर में मल्टीपरपज इंडोर हॉल के निर्माण के लिए 4 करोड़ 50 लाख रूपए तथा महासमुन्द में सिंथेटिक एथलेटिक ट्रेक के निर्माण के लिए 6 करोड़ 60 लाख रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति जारी कर दी है। इसके लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने हर्ष व्यक्त करते हुए प्रदेश के खिलाडिय़ों तथा खेल प्रेमियों को बधाई दी है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि राज्य के खिलाडिय़ों को बेहतर से बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार लगातार बड़े कदम उठा रही है। छत्तीसगढ़ के खिलाडिय़ों के लिए अंतर्राष्ट्रीय मापदण्डों के अनुरूप खेल अधोसंरचनाओं का निर्माण किया जा रहा है। प्रवीण जैन ने कहा कि इससे हमारे युवाओं को एक नया अवसर और उनकी प्रतिभा को निखारने का मौक़ा मिलेगा।

रायपुर में आवासीय हॉकी अकादमी तथा बिलासपुर में एथलेटिक, कुश्ती एवं तैराकी के लिए ‘एक्सिलेंस सेन्टर’ की मान्यता

434

आपको यह बताते हुए गर्व एवं संतोष की अनुभूति हो रही है कि छत्तीसगढ़ के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी द्वारा “गढ़बो_नवा_छत्तीसगढ़” के जिस संकल्प को लेकर आगे बढ़ रहे हैं, वह अब साकार रूप ले रहा है।

भूपेश सरकार के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ राज्य बनने के बाद पहली बार रायपुर में ‘आवासीय हॉकी अकादमी’ एवं बिलासपुर में ‘एक्सिलेंस सेन्टर’ प्रारंभ होने जा रहा है। जिससे हमारे छत्तीसगढ़ राज्य के खिलाड़ियों का सपना साकार हो सकेगा।

रायपुर में आवासीय हॉकी अकादमी तथा बिलासपुर में एथलेटिक, कुश्ती एवं तैराकी के लिए ‘एक्सिलेंस सेन्टर’ की मान्यता मिलने पर छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन ने माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी का आभार व्यक्त किया है तथा सभी युवा खिलाड़ियों, खेल प्रशिक्षकों, अधिकारी- कर्मचारियों सहित सभी प्रदेशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी है।

खेलबो जीतबो गढ़वो नवा छत्तीसगढ़

CPL – छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग के नए सत्र की शुरुआत मुख्यमंत्री जी के निर्वाचन क्षेत्र से हुई प्रारम्भ

697

पाटन विधानसभा क्षेत्र के CPL की सलेक्टेड 2 टीमों के मध्य मैच से प्रदेश भर में CPL की तैयारियां प्रारम्भ की गई। इस अवसर पर माननीय मुख्यमंत्री जी के सुपुत्र श्री चैतन्य बघेल जी ने खिलाड़ियों की हौसला अफजाई की। छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन ने बतलाया कि कोरोना काल की वजह से प्रदेश भर में खेल गतिविधियां थम सी गई थी जिसके कारण CPL टूर्नामेंट भी अधर में पड़ गया था, अब प्रदेश में परिस्थितियां काफी हद तक सामान्य हो रही है जिसके बाद मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के निर्वाचन क्षेत्र पाटन विधानसभा की दो CPL टीमों के मध्य सलेक्शन मैच रखा गया, अब धीरे धीरे सभी जिलों में सलेक्शन ट्रायल मैच कराया जायेगा और शीघ्र ही छत्तीसगढ़ प्रीमियर लीग के तारीखों की घोषणा करेंगे।

Chhattisgarh Pradesh Congress Sports Cell

BCCI ने महिला IPL टीम की घोषणा की, छत्तीसगढ़ में भी महिला टीम बनाये जाने का निर्णय

938

BCCI ने महिला IPL टीम की घोषणा की, छत्तीसगढ़ में भी महिला टीम बनाये जाने का निर्णय

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने महिला IPL कराये जाने का निर्णय लिया है हम इसका स्वागत करते है, सभी खेलों में महिलाओं की भागीदारी होनी चाहिए, भारत में महिलाओं को खेल में रुचि दिलाने की दिशा में यह एक क्रांतिकारी कदम होगा, छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस के अध्यक्ष अधि. प्रवीण जैन ने यह भी कहा कि छत्तीसगढ़ में महिला क्रिकेट को बढ़ावा देने उनके द्वारा लगातार 5 वर्षो से प्रयास किया जा रहा है, इसी वर्ष जनवरी में उन्होंने महिला महाविद्यालय स्तर पर एक फ्लड लाइट क्रिकेट टूर्नामेंट कराया था। छत्तीसगढ़ में CPL पुरुष वर्ग के ट्रायल्स हो चुके है, शीघ्र ही महिला वर्ग में भी जल्द ही CPL टीम तैयार करने ट्रायल लिया जायेगा।

महिला IPL टीम की घोषणा
ads

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने महिलाओं की टी20 लीग के मुकाबलों के लिए तीनों टीमों का ऐलान कर दिया है। इंडियन प्रीमियर लीग के तरह खेले जाने वाले मुकाबलों के लिए सुपरनोवा, ट्रेलब्रेजर्स और वेलोसिटी की टीमों में टक्कर होगी। तीन भारतीय धुरंधर मिताली राज, हरमनप्रीत कौर और स्मृति मंधानी के हाथों में टीम की कप्तानी का जिम्मा दिया गया है।

4 नवंबर से 9 नवंबर के बीच यूएई में खेले जा रहे आइपीएल के 13वें एडिशन में इन तीनों टीमों के बीच मुकाबले खेले जाएंगे। Women’s T20 Challenge के तरह तीनों कप्तान एक दूसरे से जीत के लिए दो -दो हाथ करते नजर आने वाले हैं। इस लीग में भारत के अलावा इंग्लैंड, साउथ अफ्रीका, श्रीलंका, वेस्टइंडीज, बांग्लादेश और न्यूजीलैंड की टीम की बेहतरीन महिला खिलाड़ियों को भी शामिल किया गया है।

सुपरनोवा

हरमनप्रीत कौर (कप्तान), अनुजा पाटिल, अरुंधती रेड्डी, चामिरा अट्टापट्टू, जेमिमा रेड्रिगेज, ली ताहुहु, मानसी जोशी, नतालिया सीवर, पूनम यादव, प्रिया पुनिया, राधा यादव, सोफी डिवाइन, तानिया भाटिया।

गुण्डाधूर एवं महाराजा प्रवीरचंद्र भंजदेव सम्मान के लिए खिलाड़ियों से आवेदन आमंत्रित…जमा करने की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर 2020

872

 

 चयनित खिलाड़ियों को एक लाख रूपए नगद के साथ अलंकरण फलक एवं प्रशस्त्रि पत्र से किया जाएगा सम्मानित

रायपुर.छत्तीसगढ़ शासन द्वारा प्रदेश में खेल के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को राज्य स्थापना दिवस पर गुण्डाधूर एवं महाराजा प्रवीरचंद्र भंजदेव पुरस्कार दिए जाते हैं। पुरस्कार के रूप में एक लाख रूपए नगद के साथ अलंकरण फलक और प्रशस्त्रि पत्र प्रदान किया जाता है। संचालनालय खेल एवं युवा कल्याण द्वारा राज्य के सर्वोच्च खिलाड़ियों से गुण्डाधूर एवं महाराजा प्रवीरचंद्र भंजदेव सम्मान 2019-20 के लिए अनुशंसाएं आमंत्रित की गई हैं। अनुशंसाएं जमा कराने की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर 2020 निर्धारित है। इच्छुक खिलाड़ी अपना आवेदन संचालनालय खेल एवं युवा कल्याण, सरदार वल्लभ भाई पटेल अंतर्राष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम जी.ई.रोड रायपुर अथवा खेल एवं युवा कल्याण के जिला कार्यालयों में निर्धारित तिथि तक कार्यालयीन दिवस एवं समय पर प्रस्तुत कर सकते हैं।

खेल एवं युवा कल्याण संचालनालय से मिली जानकारी के अनुसार गुण्डाधूर सम्मान ऐसे पात्र खिलाड़ियों को दिए जाएंगे जिन्होंने वर्ष 2019-20 ऐसे खेल जिन्हंे भारत सरकार युवा कार्य एवं खेल मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय स्तर के खेल अलंकरण हेतु विचार क्षेत्र में लिया जाता है। ऐसे सीनियर वर्ग की राष्ट्रीय चैम्पियनशिप या राष्ट्रीय खेलों में छत्तीसगढ़ की ओर से भाग लेते हुए स्वर्ण, रजत या कास्य पदक प्राप्त किया हो या अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व किया हो। इस सम्मान के लिए छत्तीसगढ़ की स्थानीय निवासी या उपलब्धि एवं पुरस्कार वर्ष में छत्तीसगढ़ की किसी मान्यता प्राप्त शैक्षणिक संस्था में नियमित अध्ययनरत या राज्य के शासकीय, अर्धशासकीय अथवा सार्वजनिक उपक्रमों मंे निरंतर कार्यरत खिलाड़ियों की उपलब्धि पर विचार किया जाएगा। सम्मान के लिए वर्ष की गणना एक अप्रैल से 31 मार्च तक होगी। यह सम्मान विभाग के अन्य खेल पुरस्कारों के अलावा होगा जो खिलाड़ी को उसकी उपलब्धि के लिए दिया गया है। लेकिन महाराजा प्रवीरचंद्र भंजदेव सम्मान से अलंकृत खिलाड़ी इस सम्मान को प्राप्त करने के लिए पात्र नही हांेगे। यह सम्मान किसी खिलाड़ी को उसके जीवनकाल में एक ही बार दिया जाएगा।

महाराजा प्रवीरचंद्र भंजदेव सम्मान वर्ष 2019-20 में तीरंदाजी की राष्ट्रीय चैम्पियनशिप, सीनियर वर्ग या राष्ट्रीय खेलों में छत्तीसगढ़ की ओर से भाग लेते हुए स्वर्ण, रजत या कास्य पदक प्राप्त किया हो या तीरंदाजी की अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व किया हो, ऐसे खिलाड़ियों को दिया जाएगा। यदि तीरंदाजी मंे उपरोक्त उपलब्धियों वाले खिलाड़ी किसी वर्ष में नहीं मिले तो उस वर्ष अन्य खेल जिन्हें भारत सरकार युवा कार्य और खेल मंत्रालय, राष्ट्रीय स्तर के खेल पुरस्कार हेतु विचार क्षेत्र में लेता है, के खिलाड़ियों को जिन्होंने उपरोक्तानुसार उपलब्धि प्राप्त किया है, उन्हें सम्मान हेतु चयन के लिए विचार में लिए जाएंगे। इस सम्मान के लिए छत्तीसगढ़ की स्थानीय निवासी या उपलब्धि एवं पुरस्कार वर्ष में छत्तीसगढ़ की किसी मान्यता प्राप्त शैक्षणिक संस्था में नियमित अध्ययनरत या राज्य के शासकीय, अर्धशासकीय अथवा सार्वजनिक उपक्रमों मंे निरंतर कार्यरत खिलाड़ियों की उपलब्धि पर विचार किया जाएगा। सम्मान के लिए वर्ष की गणना एक अप्रैल से 31 मार्च तक होगी। यह सम्मान विभाग के अन्य खेल पुरस्कारों के अलावा होगा जो खिलाड़ी को उसकी उपलब्धि के लिए दिया गया है। लेकिन तीरंदाजी में गुण्डाधूर सम्मान से अलंकृत खिलाड़ी इस सम्मान को प्राप्त करने के लिए पात्र नहीं हांेगे। यह सम्मान किसी खिलाड़ी को उसके जीवनकाल में एक ही बार दिया जाएगा।

गुण्डाधूर सम्मान एवं महाराजा प्रवीरचंद्र भंजदेव सम्मान के लिए उपरोक्त नियमों की विस्तृत जानकारी खेल विभाग के जिला स्तरीय कार्यालयों में देखा जा सकता है तथा आवेदन का निर्धारित प्रपत्र प्राप्त किया जा सकता है। इसके अलावा विभागीय वेबसाइट www.sportsyw.cg.gov.in में भी आवेदन का प्रारूप प्राप्त किया जा सकता है।

अधि. प्रवीण जैन, प्रदेश अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ खेल कांग्रेस

error: Content is protected !!